Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ के 16 महीनों के कार्यकाल में तीन हजार से अधिक एनकाउंटर हो गए हैं। जबकि 69 अपराधियों को मार गिराया गया। बताया जा रहा है ये आंकड़ा मार्च 2017 से जुलाई 2018 के बीच का है। बता दें कि योगी ने 19 मार्च 2017 को यूपी के सीएम पद की शपथ ली थी।

योगी सरकार इन एनकाउंटर, अपराधियों की हत्या और गिरफ्तारी के डेटा को अपनी उपलब्धियों के रूप में 26 जनवरी, 2019 को जारी करेगी। यूपी के मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडे ने इस बाबत सभी जिलाधिकारियों को गणतंत्र दिवस से पहले संदेशा भिजवाया था। प्रदेश सरकार की उपलब्धियों की एक सूची भी इसके साथ भेजी गई थी।

पत्र में कहा गया कि अपराध पर नकेल कसने और वॉन्टेड अपराधियों की धरपकड़ के लिए राज्य भर में एक अभियान चलाया गया था। पत्र में दिए गए आंकड़ों के अनुसार, जुलाई 2018 तक कुल 3,026 एनकाउंटर हुए थे। इनमें 69 अपराधी मार गिराए गए थे, जबकि 7,043 को गिरफ्तार किया गया। वहीं, 838 को पुलिस के साथ भिड़ंत के दौरान गंभीर चोटें आई थीं।

यह भी दावा है कि इसी समयकाल में 11981 अपराधियों की जमानत रद्द हुई और उन्होंने कोर्ट में सरेंडर किया। पत्र में आगे बताया गया है कि स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने इसके अलावा नौ अन्य अपराधियों को भी ढेर किया और लगभग 139 अन्य की गिरफ्तारी की।

मार्च 2017 से जुलाई 2018 का एक विश्लेषण बताता है कि हर दिन लगभग छह एनकाउंटर हुए और 14 अपराधियों की गिरफ्तारी की गई। यही नहीं, प्रति माह कम से कम चार अपराधियों को मौत के घाट उतारा गया। योगी सरकार के शुरुआती नौ महीनों (15 दिसंबर, 2017 तक) में 17 अपराधियों को ढेर कर दिया गया था। हालांकि, आगे के सात महीनों में यह आंकड़ा बढ़ा। जनवरी 2018 से जुलाई 2018 के बीच लगभग 61 अपराधी एनकाउंटर में मारे गए।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.