Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुस्लिम समुदायों में पीएम मोदी और सीएम योगी को लेकर एक तरफ जहां प्यार है तो वहीं दूसरी तरफ बेतहाशा नफरत। जी हां, कुछ ऐसा ही देखने को मिला उत्तर प्रदेश के बलिया जनपद में जहां एक मुस्लिम महिला को उसके ससुराल वालों ने सिर्फ इसलिए घर से निकाल दिया क्योंकि उसने पीएम मोदी और सीएम योगी की पेंटिंग बनाई थी। इस बाबत पुलिस ने महिला का शोषण और मोदी-योगी की पेंटिंग के कारण घर से निकालने संबंधी सूचना पाकर ससुराल वालों के करीब 6 लोगों पर एफआईआर दर्ज कर ली है।

यह मामला जिले के सिकन्दरपुर थाना क्षेत्र के बसारिकपुर गांव का है। यहां के मटूरी गांव निवासी मोहम्मद शमशेर खान की पुत्री नगमा परवीन (24) की शादी बसारिकपुर गांव निवासी हाजी सेराजूल खान के पुत्र परवेज खान के साथ 26 नवंबर, 2016 को हुई थी। नगमा ससुराल में थी और सुप्रीम कोर्ट द्वारा ट्रिपल तलाक को असंवैधानिक करार दिए जाने के बाद काफी खुश थी। उसने पीएम मोदी और सीएम योगी की पेटिंग्स बनाई और अपने पति को दिखाई। पेंटिंग देखने के बाद पति आग- बबूला हो उठा और अपने घरवालों के साथ मिलकर उसे मारा-पिटा और उसे घर से निकाल दिया। नगमा अपने घर पहुंची तो सारा घटना अपने पिता को सुनाया। नगमा का पिता ससुराल वालों से मिलने गया जहां ससुराल वालों ने उन्हें मोदी-योगी की फोटो दिखाई और उसकी बेटी को पागल बताने लगे। साथ ही नगमा के पिता को भी वहां से भगा दिया।

कुछ दिन बाद नगमा और उसके पिता को खबर मिली कि परवेज दूसरी शादी करने वाला है। इसका विरोध करने जब वह ससुराल पहुंची तो उसे वहां मारा-पीटा गया। नगमा को अस्पताल भेज दिया गया है जहां उसकी हालत पहले से बेहतर है। ससुराल वालों के खिलाफ सिकन्दरपुर थाने में आईपीसी की धारा 147, 323 , 506 और 498 के तहत पति समेत छह लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.