Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है। पुलिस ने बालिका गृह यौन उत्पीड़न कांड के मुख्य आरोपी बृजेश ठाकुर के बेटे राहुल आनंद को शनिवार रात गिरफ्तार किया। इसके बाद पुलिस ने तकरीबन 12 घंटे राहुल से पूछताछ की और फिर रविवार को उसे छोड़ दिया। वहीं पुलिस को जांच के दौरान मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के पास से 40 मोबाइल नंबर और नामों की एक सूची मिली है। सूत्रों का कहना है कि इस सूची में बिहार सरकार के एक मंत्री सहित कई प्रमुख लोगों के नाम हैं।

पुलिस ने राहुल से मामले को लेकर कई प्रश्न पूछे। इसके बाद कागजी कार्रवाई पूरी करके उसे छोड़ दिया। बता दें कि सीबीआई के डीआईजी अभय कुमार के नेतृत्व में टीम सशस्त्र कमांडो के साथ मुजफ्फरपुर के साहू रोड स्थित ब्रजेश ठाकुर के आवास पर पहुंची। परिसर में घुसने के बाद कमांडो ने अंदर से मुख्य दरवाजा बंद कर दिया, जिससे मीडिया और आसपास मौजूद लोग अंदर नहीं घुस पाए। इसके साथ ही बिहार पुलिस ने शनिवार को कई जिला कारागार में छापामारी की। इसमें पुलिस को अलग-अलग जेलों से कई आपत्तिजनक चीजें मिली हैं। इसी क्रम में मुजफ्फरपुर के खुदीराम बोस जेल में छापेमारी की गई। जहां तलाशी के दौरान मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस के मुख्य आरोपी के पास से हाथ से लिखी दो पर्चियां मिली हैंप। इनमें 40 मोबाइल नंबर और नाम लिखे हैं। इस नंबरों को सीबीआई जांच में शामिल कर सकती है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.