Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश के बड़े-बड़े मामलों की जांच कर झूठ का पर्दाफाश करने वाली देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) आज खुद जांच के दायरे में है, सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के बीच चल रहा विवाद अब चरम पर पहुंच चुका है। इस विवाद में अब केंद्र सरकार ने दखल दे दिया है।

केंद्र सरकार ने सीबीआई चीफ आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना को छुट्टी पर भेज दिया है। आलोक वर्मा की जगह एम. नागेश्वर राव को अंतरिम डायरेक्टर का कार्यभार सौंप दिया गया है। बता दें कि राव सीबीआई में अभी ज्वाइंट डायरेक्टर के तौर पर काम कर रहे थे।

वहीं बुधवार को कार्यभार संभालते ही नागेश्वर राव ने सीबीआई के मुख्यालय में दोनों 10वें और 11वें फ्लोर को सीज कर दिया गया है। इन दोनों फ्लोर पर सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के ऑफिस हैं। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक दोनों फ्लोर पर दोपहर 2 बजे तक सीबीआई के किसी भी अधिकारी के मूवमेंट पर रोक लगाई गई है। दोनों दफ्तरों के फाइल्स को भी कोई अधिकारी हाथ नहीं लगा पाएगा।

ये भी पढ़े: CBI के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना पर रिश्वत का आरोप, केंद्र सरकार भी रखी हुई है नजर

बताया जा रहा है कि जांच अभी भी चल रही है। इसके साथ ही दो और अधिकारियों के खिलाफ एक्शन लिया गया है। मनीष सिन्हा और एके शर्मा नाम के दो अधिकारियों को भी हटाया गया है। इसके अलावा अस्थाना के केस की जांच कर रहे डीएसपी अजय बस्सी का भी ट्रांसफर कर दिया गया है। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी के निर्देश पर ही सीबीआई के खिलाफ ये बड़ी कार्रवाई की गई है।

वहीं सीबीआई मामले में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि सीबीआई निदेशक को जबरन छुट्टी पर भेजकर, सीबीआई मुख्यालय में छापा कौन डलवा रहा है? सुना है ‘राफेल-डील’ पर जांच शुरू करने जा रहे थे छुट्टी पर भेजे गए सीबीआई निदेशक। उन्हें हटाकर राफेल से जुड़े कागज़ तलाशे जा रहे है क्या?

ये भी पढ़े: सीबीआई के निदेशक अस्थाना पर लगे आरोपों की हो निष्पक्ष जांच : कांग्रेस

आपको बता दें कि एजेंसी ने अपने ही स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना पर केस दर्ज किया है। एफआईआर में उन पर मांस कारोबारी मोइन कुरैशी से 3 करोड़ रुपए की रिश्वत लेने का आरोप लगाया गया है। सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इस मामले में दखल दिया था।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.