Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज आसियान सम्मिट में भाग लेने अपने दो दिवसीय दौरे पर सिंगापुर पहुंचे हैं। यहां प्रधानमंत्री ने फिनटेक फेस्टिवल में की-नोट भाषण भी दिया। प्रधानमंत्री मंगलवार देर रात को ही सिंगापुर रवाना हुए थे, सिंगापुर पहुंच कर उनका वहां जोरदार स्वागत हुआ।

फिनटेक फेस्टिवल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत के युवाओं ने आज दुनिया को अपनी तकनीक की शक्ति दिखाई है, ये इवेंट इसी शक्ति को दिखाता है। मैं अपने देश का पहला प्रधानमंत्री हूं, जिसे यहां की-नोट भाषण देने का मौका मिला है। यहां से ही हमने रूपे कार्ड की शुरुआत की थी।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि भीम और रूपे के द्वारा डिजिटल ट्रांजेक्शन बहुत तेजी से बढ़ रहा है। आज 128 बैंक यपीआई से जुड़े हुए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज दुनिया तकनीक के जरिए काफी जल्दी बदल रही है। उन्होंने कहा कि आज सरकार चलाने का तरीका बदल रहा है, गवर्नेंस में अब तकनीक हावी हो रही है। 2014 में जब हमारी सरकार आई तो हमने हर भारतीय को तकनीक से जोड़ने का लक्ष्य रखा।

पीएम ने कहा कि आधार और मोबाइल के माध्यम से हमने जन धन योजना शुरू की। तीन वर्षों में हमने 330 मिलियन नए बैंक खाते खोले हैं। 330 मिलियन स्रोत लोगों की पहचान, गरिमा और अवसरों के हैं। मोदी ने कहा कि आज हमारे पास 100 करोड़ से अधिक लोगों की बायोमेट्रिक पहचान है जिसे हम आधार कहते हैं। हमारे देश में आज आर्थिक क्रांति आ रही है, हमारे यहां 100 करोड़ से अधिक फोन लोगों के हाथ में है।

भारतीय अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि मोदी की दो दिन की यह यात्रा बुधवार से शुरू हो रही है। प्रधानमंत्री ली के न्योते पर भारत के प्रधानमंत्री 14 और 15 नवंबर को सिंगापुर आ रहे है। भारतीय उच्चायोग ने बयान में कहा कि मोदी यहां आसियान नेताओं के साथ भारत-आसियान शिखर बैठक में शामिल होंगे। यह बैठक सुबह नाश्ते के समय होगी। मोदी 13वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन (ईएएस) तथा क्षेत्रीय वृहद आर्थिक भागीदारी (आरसीईपी) शिखर बैठक में भी हिस्सा लेंगे। आसियान समूह के मौजूदा अध्यक्ष के रूप में इस शिखर बैठक का आयोजन सिंगापुर कर रहा है।

Also Read

बयान में कहा गया है कि आसियान भारत नाश्ते पर बैठक से संबंधों में हुई प्रगति की समीक्षा का अवसर मिलेगा। इस यात्रा के दौरान मोदी की सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली के साथ द्विपक्षीय बैठक भी होगी। इन शिखर बैठकों के मौके पर प्रधानमंत्री की कई अन्य नेताओं के साथ भी द्विपक्षीय बैठकें होंगी। विदेश मंत्रालय ने नई दिल्ली में जारी बयान में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की अमेरिका के उपराष्ट्रपति पेंस के साथ 14 नवंबर को द्विपक्षीय बैठक होगी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.