Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

बिहार में नक्सलियों ने उत्पात मचाया हुआ है। हाल ये है कि अब तक लाखों-करोड़ों की संपत्ति बर्बाद हो चुकी है। अच्छी बात ये है कि बीती रात नक्सलियों ने जिन रेल कर्मचारियों को कैद कर लिया था, उन्हें अब मुक्त कर दिया है। बिहार के लखीसराय जिले में ड्यूटी के दौरान अगवा हुए दोनों रेलकर्मियों को 16 घंटे बाद नक्सलियों ने आजाद कर दिया। मंगलवार की देर रात जमालपुर-किऊल रेलखंड में स्थित मसुदन स्टेशन पर हमला कर वहां मौजूद असिस्टेंट स्टेशन मास्टर मुकेश कुमार और पोर्टर निरेंद्र मंडल को अगवा कर लिया था। मुंगेर के एसपी आशीष भारती और रेल एसपी शंकर झा ने भी इस बात की पुष्टि की है।

बता दें कि नक्सलियों ने  बीती मध्य रात्रि मसुदन रेलवे स्टेशन पर हमला कर स्टेशन मास्टर मुकेश कुमार पासवान और पोर्टर नागेन्द्र मंडल का अपहरण कर कंट्रोल-पैनल को जला दिया था। दरअसल, बिहार का लखीसराय जिला उग्रवाद प्रभावित जिला है और इस जिले में नक्सली घटनाओं को अंजाम देते रहते हैं। माओवादियों के बंद के मद्देनजर जमालपुर रेल पुलिस सीमा के सभी महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशनों पर रेल पुलिस पूरी चौकसी बरत रही थीं लेकिन माओवादियों ने मसुदन रेलवे स्टेशन को इस बार टारगेट बना लिया था।

अपहरण करने के बाद एएसएम मुकेश कुमार ने मालदा के डीआरएम को फोन कर बताया था कि नक्सलियों ने उसे जान से मारने की धमकी दी है। नक्सलियों ने चेतावनी दी कि अगर मसुदन रूट पर ट्रेनों की आवाजाही जारी रही, तो वे उसे मार डालेंगे। जिसके बाद रेलवे परिचालन को बंद कर दिया गया। बता दें कि सुरक्षाकर्मियों के लगातार छापेमारी के कारण नक्सलियों ने रेल कर्मचारियों को छोड़ा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.