Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नक्सलियों का तांडव लगातार जारी है। हालांकि सुरक्षाबलों ने नक्सलियों पर लगाम कसने के लिए अपनी रणनीति में बदलाव किया है और पहले से अधिक सख्ती भी दिखाई गई है। छत्तीसगढ़ में हुए एक नक्सली हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का एक जवान शहीद हो गया है। यह हमला गुरुवार को सुकमा जिले में एक आईईडी विस्फोट के जरिये हुआ। इसमें एक अन्य जवान के घायल होने की खबर भी है। वहीं दूसरी तरफ नक्सलियों ने 6 राज्यों में बंद का ऐलान किया है।  इन राज्यों में छत्तीसगढ़, आंध्रप्रदेश, उड़ीसा, तेलंगाना, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में भी बंद का ऐलान किया है। नक्सलियों की ओर से पहली बार मध्य प्रदेश में बंद का ऐलान किया गया है। नक्सलियों ने ये बंद अप्रैल में गढ़चिरोली में साथी नक्सलियों को फर्जी मुठभेड़ में मारे जाने का आरोप लगाते हुए उनको श्रद्धांजलि देने के लिए बंद बुलाया है।

नक्सलियों ने बीजेपी नेताओं को गांवों से मार भगाने का भी आव्हान किया है। बंद के प्रचार-प्रसार के लिये उत्तर सब जोनल ब्यूरो ने जगह-जगह बैनर, पोस्टर टांग दिये हैं। बता दें कि  मंगलवार को छत्तीसगढ़ के ही कांकेर जिले में नक्सलवादियों ने भारतीय जनता पार्टी के सांसद विक्रम उसेंडी के फार्म हाउस को निशाना बनाया था। यह हमला प्रदेश के मुख्यमंत्री रमन सिंह के इस जिले के दौरे से एक दिन पहले किया गया था। बताया जाता है कि जब धमाका हुआ तो उस वक्त फार्म हाउस में कोई मौजूद नहीं था इसलिए इससे कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ। इससे पहले इसी महीने की 20  तारीख को नक्सलवादियों ने दंतेवाड़ा में पुलिस बल के एक वाहन को निशाना बनाया था।

गौरतलब है कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आने के बाद उनके द्वारा कई बार नक्सलियों को अपने हथियार छोड़ कर पुनः अपनी सामान्य जिंदगी में लौटने का आग्रह किया जा चुका है जिसके बाद कई नक्सलियों ने अपने हथियार छोड़ दिए थे जिससे केंद्र सरकार के मनोबल में काफी वृद्धि हुई थी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.