Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश में वाराणसी के कैंट क्षेत्र में नेपाल के श्रद्धालुओं से भरी एक बस सड़क डिवाइडर से टकराकर पलट गई जिससे उसमें सवार 40 यात्रियों समेत 42 लोग घायल हो गए। हादसे के शिकार लोगों में दो स्थानीय निवासी एवं तीन नेपाली श्रद्धालुओं की हालत गंभीर बनी हुई है।

पुलिस सूत्रों ने शनिवार को बताया कि शुक्रवार देर रात जिला कारागार के पास यह हादसा हुआ। हादसे के बाद चीखपुकार मच गई। इसकी सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस एवं एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई। बस की खिड़कियों के शीशे तोड़कर यात्रियों को बाहर निकाला गया तथा पास के पंडित दीन दयाल उपाध्याय जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया। उन्होंने बताया कि हादसे में गंभीर रूप से घायल नेपाल के तीन श्रद्धालुओं मीणा, वारिस और देवनारायण को काशी हिंदू विश्व विद्यालय के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करवाया गया है जबकि वाराणसी के खजुरी क्षेत्र के निवासी शहनवाज और राशीद का इलाज जिला अस्पताल में किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बाकी मरीजों को मामूली चोटें आयीं हैं तथा उन्हें जल्दी ही अस्पताल से छुट्टी दी जा सकती है।

उन्होंने बताया कि हादसे के बाद बस चालक मौके से फरार हो गया। बताया जाता है कि मोटरसाइकिल सवार शहनवाज एवं राशीद को बचाने के दौरान तेज रफ्तार बस अनियंत्रिक होकर डिवाइडर से टकराकर सड़क पर पलट गई।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि 12 अगस्त को 46 श्रद्धालुओं से भरी बस नेपाल के सुनसरी जिले से भारत भ्रमण के लिए रवाना हुई थी। शनिवार को श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में बाबा के दर्शन-पूजन के बाद अगले दिन इलाहाबाद और आगरा के लिए जाना था। दुर्घटना की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी सुरेंद्र कुमार ने अस्पताल में भर्ती मरीजों से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना तथा अस्पताल प्रशासन से घायलों के इलाज एवं खानपान के समुचित इंतजाम करने का निर्देश दिया।

          साभार- ईएनसी टाईम्स

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.