Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने दिल्ली में पाकिस्तान  के आतंकवादी हाफिज सईद के फलह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (FIF) की अगुवाई वाले आतंकवाद की फंडिंग वाले मॉड्यूल का पर्दाफाश किया। बुधवार को जारी एक आधिकारिक बयान के अनुसार NIA ने मंगलवार को दिल्ली के दरियागंज, निजामुद्दीन और कूचा घासीराम में कई जगहों पर तलाशी ली और हवाला संचालक मोहम्मद सलीम, मोहम्मद सलमान और राजराम को गिरफ्तार किया। वहीं 1.56 करोड़ रुपये नकद, 43 हजार रुपये मूल्य की नेपाली मुद्रा, 14 मोबाइल फोन, पांच पैन ड्राइव और कई आपत्तिजनक दस्तावेज जब्त किए। FIF जमात-उद-दावा द्वारा स्थापित लाहौर स्थित संगठन है। हाफिज सईद ने 1990 में इसकी स्थापना की थी। अमेरिका ने सईद को वैश्विक आतंकी घोषित किया था।

बता दें कि एजेंसी ने इस साल जुलाई में आतंकी फंडिंग के मॉड्यूल की जांच के लिए FIR दर्ज की थी। FIR के मुताबिक, दिल्ली के कुछ लोग विदेशों में मौजूद FIF के ओहदेदारों से धन प्राप्त कर रहे हैं और इनका इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए कर रहे हैं। जांच में जानकारी मिली कि नई दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके का रहने वाला मोहम्मद सलमान दुबई निवासी पाकिस्तान के एक नागरिक के साथ संपर्क में था। पाक नागरिक FIF के उप प्रमुख से जुड़ा था। FIF प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का सहयोगी संगठन है।

NIA के बयान के अनुसार, ‘FIF सदस्य और उसके सहयोगियों की ओर से हवाला संचालकों के माध्यम से भेजा जा रहा धन आरोपियों को मिल रहा है। आरोपी पाकिस्तान, UAE आदि अनेक देशों में अन्य लोगों के साथ मिलकर हवाला के माध्यम से धन को भारत भेज रहे हैं ताकि भारत में घृणित गतिविधियों को अंजाम दिया जा सके, अशांति पैदा हो सके और आतंकी गतिविधियों को अंजाम दिया जा सके।’

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.