Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकियों पर की गई कार्रवाई के बाद सवाल उठ रहे हैं कि इस ऑपरेशन में कितने आतंकी मारे गए? इस बीच भारतीय खुफिया एजेंसियों की तकनीकी सर्विलांस नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (एनटीआरओ) ने बड़ा खुलासा किया है।

NTRO की मानें तो बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के कैंप पर वायुसेना की कार्रवाई से पहले 300 के करीब मोबाइल फोन एक्टिव थे। यह आतंकियों की संख्या पर दिये जा रहे आंकड़ों को और अधिक पुख्ता करता है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक वायु सेना को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के शिविर में हमले की अनुमति मिलने के बाद एनटीआरओ ने सर्विलांस शुरू किया था।

बता दें 26 फरवरी को वायुसेना के मिराज 2000 ने पुलवामा हमले का बदला लेने के लिए बालाकोट में आतंकी शिविरों पर एयर स्ट्राइक किया था। बालाकोट हमले में मारे गए आतंकवादियों की संख्या के बारे में चल रही चर्चा के बीच वायुसेना प्रमुख बी एस धनोआ ने सोमवार को कहा था कि इस बारे में जानकारी सरकार देगी और वायुसेना केवल यह देखती है कि निशाना लगा या नहीं।

सरकारी सूत्रों ने कहा था कि हमले में 350 आतंकवादी मारे गए जबकि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि हमले में 250 आतंकी मारे गए। मीडिया की कुछ खबरों में कहा गया है कि बहुत कम नुकसान हुआ और विपक्षी नेताओं ने स्थिति साफ करने की मांग की। लेकिन, इस संबंध में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.