Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरूवार को कहा, कि आपराधिक प्रवर्ती के जो लोग समाज में अशांति फैलाने चाहते हैं और जो लोग सिर्फ बंदूक की भाषा समझते है, उन्हें उसी भाषा में समझाना चाहिए। योगी ने बताया, कि हर व्यक्ति को सुरक्षा का अधिकार मिलना चाहिए, लेकिन जो लोग सिर्फ समाज का माहौल बिगाड़ने में विश्वास रखते हैं, जिन्हें बंदूक की नोंक पर विश्वास है, उन्हें बंदूक की भाषा में ही जवाब भी दिया जाना चाहिए। यह मैं प्रशासन से कहूंगा कि इसमें घबराने की आवश्यकता नहीं है।

गुरुवार को गोरखपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में योगी ने सपा पर हमला बोला और कहा, कि ‘लाल टोपी पहनकर किसी को भी अराजकता फैलाने की छूट नहीं दी जा सकती है। संसदीय मर्यादा तार-तार करने की छूट किसी को भी नहीं दी जा सकती। मैं सलाह दूंगा कि समय रहते सुधरें नहीं तो प्रदेश की जनता उन्हें सुधार ही रही है।’

गुरुवार को बजट सत्र में विपक्षी हंगामे के बाद योगी ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा, कि विपक्षी नेताओं का अशिष्ट, असंसदीय, और अशोभनीय आचरण निन्दनीय है। इस तरह के आचरण से संसदीय परंपरा टूट रही है।’ योगी ने कहा, सदन में सपा का ये आचरण इस बात की ओर संकेत करता है कि सपा पार्टी के लोग प्रदेश को भ्रष्‍टाचार, गुंडाराज, अराजकता और अपराध की ओर ले जाना चाहते हैं।

योगी आगे बोले, कि पूर्व की सरकारें तुष्टिकरण और वोटबैंक की राजनीति खेला करती थीं। सपा सरकार को सिर्फ बूचड़खानों में रूचि थी, जबकि हमारी सरकार विकास में विश्वास रखती हैं। योगी ने दावा किया, कि जिस जगह सपा सरकार बूचड़खाना खोलना चाहती थी, हम वहां विकास के द्वार खोलेंगे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.