Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश में मोदी सरकार भले ही लोगों को यह विश्वास दिलाने में लगी हो कि देश में सबकुछ ठीक चल रहा है लेकिन इस तरह की रैलियां देश का हाल कुछ और ही बयां करती है। जी हां, पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में इमारत-ए -शरिया की ओर से ‘दीन बचाओ देश बचाओ’ सम्मेलन में रविवार को विहंगम नजारा देखने को मिला। सम्मलेन में भाग लेने के लिए बिहार समेत देश के कोने-कोने से लोग सुबह से ही गांधी मैदान पहुंचने लगे थे।  इमारत शरिया और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा कि इस रैली का मकसद देश में धार्मिक उन्माद की राजनीति को खत्म करना है। साथ ही सभी धर्मों के लोगों के बीच भाईचारे और सौहार्द को मजबूत करना है।

सम्मेलन से पहले मुसलमानों ने गांधी मैदान में ही जोहर की नमाज पढ़ी। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मौलाना मोहम्मद वली रहमानी के घोषणा के बाद गांधी मैदान पहुंचे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने वहीं वजू किया और उसके बाद नमाज पढ़ी। पूरे गांधी मैदान में एक जब हजारों की संख्या में गांधी मैदान पहुंचे मुसलमानों ने नमाज पढ़ना शुरू किया तो यह नजारा देखने लायक था। रैली का आयोजन करने वालों का कहना है कि उन्होंने इससे राजनीतिक पार्टियों से दूर रखा गया है और किसी भी पार्टी को इसका न्यौता नहीं भेजा गया है।

रैली की वजह से पटना प्रशासन सुरक्षा को लेकर सजग हो गया है। बम निरोधक दस्ते सहित डॉग स्कवॉड की टीम गांधी मैदान पहुंच गई है। हालिया सालों में ऐसा पहली बार हो रहा है जब धर्म बचाने के लिए मुसलमान सड़कों पर उतर रहे हैं। गांधी मैदान में दोपहर दो बजे से कार्यक्रम का आयोजन हो जाएगा। रैली में बाहर से आने वाले लोगों के लिए आयोजकों ने खास इंतजाम किए हैं ताकि उन्हें किसी तरह की परेशानी ना हो। इमारत-ए-शरिया की ओर से बताया गया है कि पिछले कुछ सालों के दौरान बिगड़ती स्थिति को सुधारने, हिंदू-मुस्लिम सौहार्द व सांझी संस्कृति का परचम लहराने के उद्देश्य से गांधी मैदान में राष्ट्रीय स्तर के ‘दीन बचाओ, देश बचाओ’ समारोह का आयोजन किया गया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.