Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

2019 में 4 फरवरी से 4 मार्च के बीच 1 महीने तक संगम नगरी इलाहाबाद में अर्धकुंभ का आयोजन होगा और फिलहाल सरकार इस आयोजन को सफल बनाने की पूरी तैयारी में जुटी है। केंद्र और राज्य दोनों ही सरकारें इलाहाबाद में 2019 में होने वाले अर्धकुंभ को सफल बनाने में जुट गई हैं।

इसी कड़ी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सभी नगर निकाय में एक आकर्षक पथ विकसित किया जाए और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर उसका नामकरण अटल गौरव पथ किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पथ इस तरह विकसित किये जाएं कि उन पर हर नगरवासी को गौरव की अनुभूति हो। इस पथ के सौन्दर्यीकरण के साथ ही सभी जरुरी और आधुनिक सुविधाएं मुहैया करायी जानी चाहिए। नगर निकायों में साफ-सफाई के साथ खुले नालों को ढकने की व्यवस्था की जाए।

गंगा में नहीं गिरेगी कोई भी गंदगी

योगी ने कहा कि प्रयाग कुम्भ-2019 के दौरान 15 जनवरी से चार मार्च तक देश एवं दुनिया की प्रमुख विभूतियां दर्शन और स्नान के लिए यहां आयेंगी।

उन्होंने कहा कि कुंभ में ना सिर्फ श्रद्धालु, बल्कि बड़ी संख्या में पर्यटक भी आएंगे। इस दौरान संगम क्षेत्र में साफ-सफाई और अन्य व्यवस्था ऐसी होनी चाहिए कि यहां आने वाले प्रत्येक व्यक्ति में कुंभ पर्व के प्रति सहज श्रद्धा उत्पन्न हो जाए। प्रयाग कुम्भ-2019 की तैयारियों में इन बातों का पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए।

योगी ने कहा कि प्रयाग कुंभ के मद्देनजर यह सुनिश्चित किया जाए कि 15 दिसम्बर, 2018 के बाद कोई भी गंदा नाला और औद्योगिक तरल या ठोस कचरा किसी भी सूरत में गंगा और उसकी सहायक नदियों में ना गिरे। अब देखना होगा कि सरकार जितनी जोर शोर से कुंभ को लेकर तैयारी कर रही हैं वो उम्मीदों पर कितना खरा उतरेगा ?

एपीएन ब्यूरो

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.