Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश भर में विजयादशमी और दशहरे की धूम है। जगह-जगह लोग रावण का पुतला जलाकर असत्य पर सत्य के विजय के इस त्योहार को मना रहे हैं। दिल्ली के लालकिला मैदान के ऐतिहासिक रामलीला में पीएम मोदी ने रावण का पुतला जलाकर इस त्योहार को परंपरागत रूप से मनाया। इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत तमाम गणमान्य लोग मौजूद थे।

पुतला दहन से पहले पीएम मोदी ने लोगों को विजयादशमी की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उत्सव सिर्फ मनोरंजन नहीं एक मकसद बनना चाहिए। उन्होंने कहा हमारे सभी उत्सव प्रकृति और सांस्कृतिक पंपराओं से जुड़े हैं। ये रावण दहन उसी परंपरा का हिस्सा है। पीएम ने कहा कि हमारे सभी उत्सवों का उद्देश्य समाज में फैली विकृतियों को मिटाना और समाज को प्रगति की ओर ले जाना है। इसके लिए हमें समाज और जीवन में व्याप्त रावण को खत्म करने की कोशिश करनी चाहिए।

पीएम ने कहा कि अयोध्या से निकले राम ऐसा संकल्प लेकर चलते हैं कि नर, वानर और प्रकृति सभी को अपने साथ जोड़ लेते हैं। ठीक उसी तरह हम सभी को भी संकल्प लेना चाहिए कि 2022 तक देश के विकास में कुछ न कुछ जरूर योगदान करें। उन्होंने कहा कि ऐसे उत्सव कुछ कर गुजरने की प्रेरणा जगाती हैं।

वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि प्रभु राम के आदर्शों को जीवन के आचरण में लाने की जरूरत है। साथ ही उन्होंने भगवान राम से जुड़ा एक रोचक प्रसंग भी लोगों को सुनाया।

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दशहरा महोत्सव में भाग लेने के लिए लाल किला पहुंचे और भगवान राम की आरती की।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.