Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पीएम मोदी के नेतृत्व में लगातार दूसरी बार सरकार बनने के बाद संसद का पहला सत्र आज से शुरू हुआ। भारतीय जनता पार्टी के सांसद वीरेंद्र कुमार ने सोमवार सुबह प्रोटेम स्पीकर के तौर पर शपथ ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें शपथ दिलाई। जिसके बाद वीरेंद्र कुमार ने सभी नए लोकसभा सांसदों को शपथ दिलाई। अगले दो दिनों में सभी 542 सांसदों को शपथ दिलाई जाएगी।

आपको बता दें कि वीरेंद्र कुमार टीकमगढ़ से सांसद हैं। वीरेंद्र कुमार 1996 में पहली बार सांसद बने थे और मौजूदा समय में इस बार सातवीं बार लोकसभा सदस्य चुने गए हैं। उनकी वरिष्ठता को देखते हुए प्रोटेम स्पीकर बनाने का फैसला किया गया है।

सदन की कार्यवाही की शुरुआत राष्ट्रगान के साथ हुई और इसके बाद सदन में 2 मिनट का मौन भी रखा गया। सत्र में बैठने की व्यवस्था की बात करें तो पीएम मोदी के बगल में लोकसभा के उपनेता राजनाथ सिंह बैठे। इसके बाद आगे की पंक्ति में अमित शाह, नितिन गडकरी, सदानंद गौड़ा, नरेंद्र सिंह तोमर, हरसिमरत कौर बादल, रविशंकर प्रसाद को जगह दी गई है।

सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसद सदस्य के तौर पर पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। इस दौरान सदन में मोदी-मोदी के नारे गूंजते रहे।

इसके बाद गांधीनगर से पहली बार चुने गए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी सांसद के तौर पर शपथ ली। इसके साथ ही विदेश मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी शपथ ली।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, डॉक्टर हर्षवर्धन, रमेश पोखरियाल समेत सत्ता पक्ष और विपक्ष के कई नेताओं ने सांसद के तौर पर शपथ ली।

वहीं बीजेपी सांसद अश्वनी कुमार चौबे, किरण रिजिजू, जितेंद्र सिंह, गिरिराज सिंह, प्रह्लाद जोशी, राव इंद्रजीत सिंह, प्रह्लाद सिंह पटेल, अर्जुन राम मेघनाल, कृष्णपाल गुर्जर, साध्वी निरंजन ज्योति, बाबुल सुप्रियो, शिवसेना के अरविंद सावंत ने शपथ ग्रहण की। वहीं बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो और देबाश्री चौधरी ने सांसद के तौर पर शपथ ली। यह दोनों ही सांसद पश्चिम बंगाल से जीतकर आए हैं। इस दौरान सदन  में जय श्री राम के नारे गूंजते रहे। इसके अलावा बीजेपी के प्रताप चंद्र सारंगी ने संस्कृत में शपथ ग्रहण की। आरा से चुने गए बीजेपी सांसद आर के सिंह ने भी शपथ ली।

बता दें कि सदन का सत्र शुरु होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मीडिया को संबोधित किया। शपथ लेने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आज नए संविधान से परिचय का वक्त है। नए उत्साह, नई उमंग के साथ काम करेंगे। जनता ने हमें काम करने का अवसर दिया। जनता की आशा-आकाक्षांओं को पूरा करेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि जनता ने सबका साथ-सबका विश्वास में बहुत आत्मविश्वास भरा। प्रतिपक्ष नंबरों की चिंता छोड़ दे। हमारे लिए विपक्ष की हर बात और हर भावना मूल्यवान है। आने वाले पांच सालों में इस सदन की गरिमा को और बढ़ाएंगे। पक्ष, विपक्ष से ज्यादा निश्पक्ष भाव जरूरी है।’

बता दें कि बुधवार को नए लोकसभा अध्यक्ष का चयन होगा, राष्ट्रपति बृहस्पतिवार को दोनों सदनों के संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगे। निर्मला सीतारमण बतौर वित्त मंत्री 5 जुलाई को आम बजट पेश करेंगी। इस सत्र में सरकार तीन तलाक, केंद्रीय शैक्षणिक संस्थान (शिक्षक संवर्ग में आरक्षण), नागरिकता संशोधन जैसे कई अहम बिल पेश करेगी

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.