Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव 2019 में मिले प्रचंड बहुमत के बाद दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय पहुंचे। यहां पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। जिसके बाद अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और जेपी नड्डा समेत कई बड़े नेताओं ने पीएम मोदी को माला पहनाकर स्वागत किया।

पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने पीएम मोदी से पहले मंच से भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने पीएम मोदी का स्वागत करते हुए लोकसभा में मिली जीत के लिए जनता को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि यह विजय बूथ से लेकर जमीन पर श्रम करने वाली ये जीत जनता की जीत है, ये विजय पार्टी कार्यकर्ताओं की जीत है, ये ‘सबका साथ सबका विकास’ की जीत है। पीएम मोदी की लोकप्रियता की विजय है।

अमित शाह ने कहा कि यह ऐतिहासिक जीत है। मैंने देश के कार्यकर्ताओं को कहा था कि हम 50 प्रतिशत की लड़ाई लड़ने के लिए चुनाव मैदान में हैं। आज मैं गौरव के साथ कह सकता हूं कि देश के 17 राज्यों में जनता ने 50 प्रतिशत से ज्यादा वोटों का आशीर्वाद भाजपा को दिया है। एक ओर जनता ने मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा को जिताया है। दूसरी ओर कांग्रेस को करारी हार देखनी पड़ी है। उन्होंने राज्यों के नाम गिनाते हुए कहा कि कांग्रेस देश के 17 राज्यों में अपना खाता नहीं खोल पाई है।

जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा, आज हम देख रहे हैं देश के कोटि-कोटि नागरिकों ने इस फकीर की झोली को भर दिया है। मैं भारत के 130 करोड़ नागरिकों का सिर झुकाकर नमन करता हूं। ये जो मतदान का आंकड़ा है ये अपने आप में लोकतांत्रिक विश्व के इतिहास की सबसे बड़ी घटना है। देश आजाद हुआ इतने लोकसभा के चुनाव हुए, लेकिन आजादी के बाद इतने चुनाव होने के बाद सबसे अधिक मतदान इस चुनाव में हुआ है। और वो भी 40-42 डिग्री गर्मी के बीच, ये अपने आप में भारत के मतदाताओं की जागरूकता, लोकतंत्र के प्रति भारत की प्रतिबद्धिता दर्शाता है।


मैं इस लोकतंत्र के उत्तव में लोकतंत्र की खातिर, जिन-जिन लोगों ने बलिदान दिया है, जो घायल हुए हैं, उनके पारिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं। इस चुनाव में मैं पहले दिन से कहा रहा था कि ये चुनाव कोई दल नहीं लड़ रहा है, कोई उम्मीदवार नहीं लड़ रहा है, कोई नेता नहीं लड़ रहा है। ये चुनाव देश की जनता लड़ रही है।

महाभारत के युद्ध के बाद श्रीकृष्ण से पूछा गया था कि वो किसके पक्ष में थे। जो जवाब तब श्रीकृष्ण ने दिया था, वही जवाब आज देश की जनता ने दिया है। श्रीकृष्ण ने तब कहा था कि मैं किसी के पक्ष में नहीं था, मैं सिर्फ हस्तीनापुर के पक्ष में खड़ा था, आज भारत के 130 करोड़ नागरिक भारत के पक्ष में खड़े थे, भारत के पक्ष में उन्होंने मतदान किया।जिनके आंख-कान बंद थे उनके लिए मेरी बात समझना मुश्किल था, लेकिन आज मेरी उस भावना को जनता-जर्नादन ने प्रकट कर दिया है। इसलिए अगर कोई विजयी हुआ है तो हिंदुस्तान विजयी हुआ है। अगर कोई विजयी हुआ है तो लोकतंत्र विजयी हुआ है।

हम सभी भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता, हम सभी एनडीए के साथी, नम्रता पूर्वक इस विजय को जनता-जर्नादन के चरणों में समर्पित करते हैं। जो उम्मीदवार विजयी हुए हैं, उन सभी को मैं ह्रदयपूर्वक बधाई देता हूं। वो किसी भी दल से आए हों, लेकिन देश के उज्ज्वल भविष्य के लिए कंधे से कंधा मिलाकर ये सभी विजयी उम्मीदवार देश की सेवा करेंगे, इस विश्वास के साथ मैं उन्हें शुभकामना देता हूं।

भारतीय जनता पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ता, उनके परिश्रम, उनका पुरुषार्थ, कितना गर्व होता है कि जिस दल में हम हैं, उसमें कितने दिलदार लोग हैं। कोटि-कोटि कार्यकर्ताओं का सिर्फ एक ही भाव- भारत माता की जय और कुछ नहीं भाजपा की एक विशेषता है कि हम कभी दो भी हो गए, लेकिन हम कभी अपने मार्ग से विचलित नहीं हुए। आदर्शों को ओझल नहीं होने दिया। न रुके, न झुके, न थके। कभी हम दो हो गए, तो भी और आज दोबारा आ गए। दो से दोबारा होने की यात्रा में कई उतार चढ़ाव आए।

हम दो थे, तब भी निराश नहीं हुए। अब दोबारा आए हैं तब भी न नम्रता छोड़ेगे, न विवेक को छोड़ेंगे, न हमारे आदर्शों को छोड़ेंगे, न हमारे संस्कारों को छोड़ेंगे। ये 21वीं सदी है, ये नया भारत है। ये चुनाव की विजय मोदी की विजय नहीं है। ये देश में ईमानदारी के लिए तड़पते हुए नागरिक की आशा-आकांक्षा की विजय है। यह 21वीं सदी के सपनों को लेकर चल पड़े नौजवान की विजय है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.