Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पुलिस व्यवस्था में इस समय कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। पुलिस ऑफीसर लगातार आत्महत्या पर आत्महत्या करते जा रहे हैं। कभी कोई पारिवारिक कलह के वजह से तो कभी अपने कामों के वजह से। बता दें कि फर्रुखाबाद में मंगलवार को केंद्रीय वित्तराज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला की सुरक्षा ड्यूटी में तैनात दरोगा ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मार ली। घायल दारोगा को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बता दें कि कुछ दिन पहले यूपी के एक और ऑफीसर ने आत्महत्या कर ली थी। यूपी के कानपुर में बीते दिनों एसपी पूर्वी पद पर तैनात आईपीएस अफसर सुरेंद्र दास ने जहर खाकर जान दे दी थी। आत्महत्या के पीछे घरेलू कलह की बात सामने आई थी।

बता दें कि घटना के बाद सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फिलहाल पुलिस घटना की जांच कर रही है। जिला अस्पताल पहुंचकर पुलिस के अधिकारियों ने मौके का मुआयना किया। जानकारी के मुताबिक मृतक दारोगा का तबादला एक सप्ताह पहले कानपुर जिले से फर्रुखाबाद जनपद में हुआ था।

जानकारी के मुताबिक दारोगा का नाम तार बाबू तरुण था. जानकारी के अनुसार दरोगा मूलरूप से फिरोजाबाद के थाना टूंडला के गांव नगला सोना के रहने वाले थे। पुलिस वालों में बढ़ती इस तरह की आत्महत्या की घटनाएं काफी चिंतनीय है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.