Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

यूपी में राजनीति और सियासत की सरगर्मी अपने चरम पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्ती के बावजूद लोग उनके फैसले को अपने ठेंगे पर रख मनमानी कर रहे हैं। गौरतलब है कि सीएम योगी ने एक कार्यक्रम  के दौरान कहा था कि ‘गाय के नाम पर नारे लगाने से गौ सेवा नहीं होती।‘

हाल ही में ग्रेटर नोएडा में गोरक्षा के नाम पर एक मामला सामने आया है जहां दो युवकों को कुछ लोगों ने जमकर पीट दिया है। बताया जा रहा है कि सिरसा खदारपुर गांव के पास जयवीर और भूपी सिंह नामक दो व्यक्ति अपने दोस्त द्वारा दी गई एक गाय और बछड़े को अपने साथ अपने घर मांझीपुर गांव की ओर ले जा रहे थे। रास्ते में अचानक से गोरक्षा दल के लोगों ने दोनों युवक को गो-तस्कर समझ के घेर लिया और बिना सवाल जवाब किए युवकों को पीटना शुरु कर दिया। इस दौरान दल के लोगों ने दोनों को इस प्रकार मारा कि दोनों युवकों को जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराना पड़ गया, साथ ही दोनों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवा दी गई है। सवाल यह उठता है कि कब तक गोरक्षक गोरक्षा के नाम पर लोगों के साथ गुंड़ागर्दी करेंगे? आखिर क्यों सरकार इन पर कार्यवाही करने से कतराती है?

पीड़ितों का बयान…..

गोरक्षा के नाम पर गोरक्षकों के हमले का शिकार हुए पीड़ितों ने कहा,’हम लोग मेंहदीपुर से गाय लेकर अपने गांव मांझीपुर जा रहे थे, मार्ग में आराम करने के लिए हम एक पेड़ की छाँव में बैठे थे कि अचानक कुछ लोगों ने हम दोनों को घेर लिया। जबतक हम कुछ समझ या समझा पाते तब तक उनमें से चार लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया।’

भूप सिंह ने कहा,’कुछ लोगों ने हमें अचानक से घेर लिया और हमारी बातों को बिना सुने हमारे साथ मारा-पीट शुरु कर दी, इस दौरान जब उन्हे महसूस हुआ कि हम गौ तस्कर न होकर आम डेयरी से जुड़े लोग हैं तब जाकर उन्होंने हम दोनों को छोड़ा।’

गोरक्षकों के खिलाफ नेताओं ने जताई नाराजगी…..

बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा,’गोरक्षकों द्वारा गोरक्षा के नाम पर किसी प्रकार की दादागिरी बर्दाश्त नहीं की जाएंगी, सरकार ने कानून व्यवस्था को सख्त करते हुए कहा है कि यूपी में जो व्यक्ति अपराध करेगा चाहे वह संघ का आदमी हो या पार्टी का, चाहे कोई अधिकारी हो या आम आदमी किसी को बख्शा नहीं जाएगा सब पर कारवाई होगी।’

कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने योगी सरकार पर तंज कसते हुए कहा,’केवल बयान बाजी व हवाई फायरिंग से काम नहीं होता है, सीएम योगी को ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कारवाई करनी चाहिए। जिससे भविष्य में कोई भी संघ का आदमी गोरक्षा के नाम पर एसी गुंड़ागर्दी न कर सके।’

वीडियों देखे-

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.