Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी बात एक ही लाइन में रखने के लिए जाने जाते हैं। बुधवार को भी शिवराज ने एक ही लाइन में अपनी बात रख दी। वह मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद भी विचलित नजर नहीं दिखे।

ये भी पढ़ें:-  SC/ST ACT पर शिवराज सिंह चौहान बोले-‘बिना जांच के नहीं होगी गिरफ्तारी’

शिवराज ने भोपाल में मुख्यमंत्री आवास में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। यहां उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया और कहा कि वह कहीं नहीं जाने वाले हैं। बता दें कि कार्यकर्ता यहां चौहान से मिलने आए थे।

शिवराज सिंह ने कहा कि, “चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है कि उनके साथ क्या होगा। मैं, शिवराज सिंह चौहान, मैं अभी भी यहां हूं। टाइगर अभी जिंदा है।”

ये भी पढ़ें:-  ऊंची छलांग से पहले हटना पड़ता है दो कदम पीछे : शिवराज सिंह चौहान

उन्होंने आगे कहा कि यह इस डोम का आखिरी कार्यक्रम है। इतने में लोगों ने कहा कि पांच साल बाद फिर आप यहां होंगे। इतने में शिवराज ने कहा कि ‘हो सकता है कि पांच साल भी पूरे न लगें। उन्होंने कहा कि इस डोम के नीचे अनेक पंचायतें और धार्मिक आयोजन हुए हैं।

वहीं बुधवार को दिए बयान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री गुरुवार सुबह अपने ट्वीट को लेकर चर्चा में हैं। ताजा ट्वीट में शिवराज सिंह चौहान ने कार्यकर्ताओं का हौंसला बढ़ाते हुए लिखा कि हर लंबी दौड़ या फिर ऊंची छलांग से पहले दो कदम पीछे हटना पड़ता है। शिवराज के इस ट्वीट के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। राजनीतिक जानकार इसे सीधे लोकसभा चुनाव की तैयारियों से जोड़कर देख रहे हैं।

ये भी पढ़ें:-  मध्य प्रदेश: बांग्लादेश की सड़क को भोपाल का बताने पर शिवराज सिंह ने कमलनाथ की ली चुटकी

बीते 15 सालों से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे शिवराज ने देश के सबसे बड़े राज्य पर शासन करते हुए खुद को लोगों का मामाजी कहा। यानी एक ऐसी शख्सियत जो लोगों की ओर देखे, खासकर महिलाओं और युवाओं को। कांग्रेस की विधानसभा चुनावों में मिली जीत के बाद नए मुख्यमंत्री कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में भी शिवराज शामिल हुए थे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.