Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की समाधि ‘सदैव अटल’ को आज राष्ट्र को समर्पित किया। कोविंद और मोदी ने दिवंगत पूर्व प्रधनमंत्री की समाधि को उनकी 95वीं जयंती के अवसर पर देश के लोगों को समर्पित किया। मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडु, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। इस अवसर पर विशेष प्रार्थना सभा का भी आयोजन किया गया। उल्लेखनीय है कि वाजपेयी का जन्म 25 दिसंबर 1924 को हुआ था और तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे वाजपेयी का इस साल 16 अगस्त को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में निधन हो गया था। करीब डेढ़ एकड़ में फैले ‘सदैव अटल’ स्मारक को अटल स्मृति न्यास सोसाइटी ने विकसित किया है।

मोदी ने ट्वीट किया, “हम सबके प्रिय, पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी को उनकी जयंती पर शत-शत नमन। अटल जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि। इस अवसर पर हम उनके सपने का भारत बनाने को लेकर अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हैं।”

उन्होंने पूर्व दिवंगत प्रधानमंत्री का एक ऑडियो विजुअल कैप्सूल टि्वटर पर पोस्ट कर कई क्षेत्रों में उनकी उपलब्धियों का उल्लेख करते हुए कहा कि वह वाजपेयी जी ही थे जिन्होंने देश को परमाणु शक्ति संपन्न बनाने के लिए सही नेतृत्व प्रदान किया।

रामनाथ कोविंद और मोदी ने मालवीय की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को मदन मोहन मालवीय की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। प्रधानमंत्री ने महान स्वतंत्रता सेनानी एवं तीन बार कांग्रेस अध्यक्ष रहे पंडित मदन मोहन मालवीय की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। मोदी ने महामना को याद करते हुए ट्वीट किया, “पंडित मदन मोहन मालवीय जी को उनकी जयंती पर कोटि-कोटि नमन। शिक्षा के क्षेत्र में अमिट योगदान और राष्ट्र के प्रति असीम समर्पण के लिए महामना सदा याद किए जाएंगे।”

पंडित मदन मोहन को सम्मानपूर्वक महामना कहा जाता है। पंडित मदन मोहन मालवीय का जन्म 25 दिसंबर 1861 को हुआ था। उनका निधन 12 नवंबर 1946 को हुआ था। पंडित मदन मोहन मालवीय को 24 दिसंबर 2014 को मरणोपरांत देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न प्रदान किया गया था।

विलक्षण व्यक्तित्व के धनी अटल को उत्तर प्रदेश ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि
भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी 95वीं जयन्ती के मौके पर यहां भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। लोक भवन में मंगलवार को ‘महानायक अटल’ विषयक परिचर्चा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा समेत मंत्रिमण्डल के अन्य सदस्यों के अलावा महापौर संयुक्ता भाटिया व अन्य विशिष्टजन उपस्थित थे। इससे पहले सभी महानुभावों ने लोक भवन के प्रांगण में लगे अटल बिहारी वाजपेयी के चित्र पर पुष्प अर्पित करके अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। नाईक ने कहा यह सुखद संयोग है कि प्रभु ईशा मसीह, महामना मदन मोहन मालवीय तथा अटल बिहारी वाजपेयी की जन्मतिथि एक ही है। अटल राजनीति के महानायक तथा देश के सर्वमान्य नेता थे। दल के लोग उनकी प्रशंसा करें तो स्वाभाविक है पर अटल जी की स्तुति विपक्षी दल के नेता भी करते हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.