Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पंजाब में दो विशाल रैलियां कर लोकसभा चुनाव 2019 का बिगुल बजाएंगे। लोकसभा 2019 चुनावों से पहले भाजपा की 20 राज्यों में पीएम मोदी की 100 रैलियां कराने की योजना है। गुरदासपुर से इसका आगाज किया जा रहा है। पीएम मोदी जालंधर में लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में 106वीं इंडियन साइंस कांग्रेस का उद्‌घाटन करेंगे। इसके पश्चात बाद दोपहर वह गुरदासपुर में भाजपा और अकाली दल की संयुक्त धन्यवाद रैली को संबोधित करेंगे।

राज्य में 2017 के विधानसभा चुनावों में पंजाब में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बाद अकाली-भाजपा गठबंधन तीसरे नंबर पर रहा था। अकाली दल का ग्रामीण इलाकों में खासा असर है, वहीं भाजपा की पकड़ कस्बाई और शहरी इलाकों में मानी जाती रही है। माना जा रहा है कि नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे से भाजपा पंजाब में कमजोर हुई है।

गुरदासपुर रैली में मोदी के भाषण का मुख्य मुद्दा कुछ समय पहले ही भारत और पाक सरकारों के बीच करतारपुर कॉरिडोर खोलने को लेकर हुआ समझौता और 1984 के सिख कत्लेआम मामले में हुई सजाएं रहेगा। हाल ही में कांग्रेस के पूर्व सांसद सज्जन कुमार को इस मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय ने उम्र कैद की सजा दी है। जिसकी शिअद-भाजपा ने ही नहीं, पंजाब की कांग्रेस इकाई ने भी सराहना की थी। इसके साथ ही केंद्र सरकार द्वारा इस मामले में गठित एसआईटी ने बंद केसों को दोबारा खोला है। जिसके बाद कुछ समय पहले ही दो आरोपियों को अदालत ने सजा सुनाई था।

बुधवार को ही कत्लेआम पीड़ितों और गवाहों ने अकाली दल के अध्यक्ष सुखवीर सिह बादल की अगुवाई में पीएम मोदी के साथ मुलाकात की थी। पीड़ितों में अधिकतर परिवार गुरदासपुर जिले से संबंधित हैं। इसलिए मोदी का इस मुद्दे पर मुखर होकर कांग्रेस पर हमला करना भी तय माना जा रहा है।

राफेल विमान ओर किसान कर्जा माफी के मुद्दे पर विरोधी दलों द्वारा प्रधानमंत्री का विरोध किए जाने की भी सूचना है। जालंधर और गुरदासपुर की रैलियों की सुरक्षा के लिए तीन स्तरीय इंतजाम किए गए हैं।

-साभार, ईएनसी टाईम्स

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.