Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सरकार बनते ही किसानों की कर्ज माफी के दो दिन बाद भारतीय जनता पार्टी की सत्ता वाले दो राज्य असम और गुजरात से कर्ज माफी के दो फैसले आए हैं। जिसको लेकर सियासी गलियारों में खूब चर्चा हो रही है।

पहला असम की सरकार का आठ लाख किसानों का 600 करोड़ रुपए का कर्ज माफ कर देना और दूसरा गुजरात की सरकार का 6 लाख से अधिक बकाएदारों का 625 करोड़ रुपए का बिजली का बिल माफ कर देना।

जिसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने असम और गुजरात के मुख्यमंत्रियों को गहरी नींद से जगा दिया है, लेकिन प्रधानमंत्री अब भी सो रहे हैं।

दरअसल, असम और गुजरात में बीजेपी की सरकार है और दोनों राज्यों की सरकारों ने मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की कर्ज माफी के बाद अपने राज्य में किसानों को राहत दी है।

बता दें गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने किसानों के 650 करोड़ रुपये के बिजली बिल माफ कर दिेए हैं। जबकि असम में भी किसानों के लिए कर्जमाफी की घोषणा की गई है। हालांकि यहां पर किसानों को अधिकतम 25 हजार रुपये तक ही कर्जमाफी मिलेगी।

बीजेपी शासित दोनों राज्यों के इन फैसलों को कांग्रेस मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में किए गए कर्जमाफी का असर बता रही है। मंगलवार को राहुल गांधी ने कहा था कि हमने जो वादा किया था वो पूरा कर दिया।

उन्होंने कहा था कि कांग्रेस व अन्य विपक्षी दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर किसानों के कर्ज माफ करने के लिए दबाव बनाएंगे और तब तक उन्हें सोने नहीं देंगे।

अब राहुल गांधी ने गुजरात और असम की बीजेपी शासित सरकारों के फैसले को आधार बनाते हुए एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है कि वह अब भी सो रहे हैं, हम उन्हें भी जगाएंगे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.