Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उपचुनाव में मिली करारी हार और टीडीपी की तरफ से अविश्वास प्रस्ताव पेश किए जाने की मांग से परेशान भारतीय जनता पार्टी के बाद अब कांग्रेस में भी फूंट की स्थिति साफ दिखाई देने लगी है। बीजेपी की हार का जश्न मनाने वाली कांग्रेस अब खुद मुश्किल में फंस सकती है, ऐसा इसलिए क्योंकि यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। राज बब्बर के इस्तीफे से कांग्रेस को करारा झटका इसलिए भी लग सकता है क्योंकि दो दिनों में यह तीसरा इस्तीफा है, इससे पहले गुजरात और गोवा के प्रदेश अध्यक्ष भी कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे चुके हैं। ऐसे में लोकसभा चुनाव के लिहाज से कांग्रेस की ताकत कमजोर पड़ सकती है।

राज बब्बर के इस्तीफे से कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों में भी हैरानी की स्थिति बनी हुई है क्योंकि राज बब्बर लंबे वक्त तक समाजवादी पार्टी में रहने के बाद कांग्रेस में आए थे। ऐसे में अचानक उनका पार्टी से इस्तीफा देना कांग्रेस के लिए बड़ी मुसीबत लेकर आ सकता है। हालांकि उनके इस्तीफे की अभी तक कोई भी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है, लेकिन पार्टी सूत्रों के हवाले से ये खबर सामने आई है।

2016 में संभाला था पदभार

राज बब्बर को 2016 की जुलाई में प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। राज बब्बर इससे पहले तीन बार लोकसभा के सदस्य भी रह चुके हैं, इसके अलावा वह उत्तराखंड से राज्यसभा सदस्य भी हैं। राज बब्बर को यूपी चुनावों में कांग्रेस को जीत दिलाने के उद्देश्य से पद पर नियुक्त किया गया था। लेकिन अब खबर आ रही है कि यूपी चुनावों में कांग्रेस के ख़राब प्रदर्शन के चलते राज बब्बर ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए पार्टी के सामने इस्तीफे की पेशकश की हैं।Raj Babbar resigns from UP Congress presidency, A Brahmin could take Babbar's place

ये ले सकते हैं बब्बर की जगह

राज बब्बर के इस्तीफे के बाद सूची में ऐसे चार नाम शामिल हैं, जिनमें से किसी एक को राज बब्बर की जगह पर यूपी कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त किया जा सकता है। इस फेहरिस्त में कांग्रेस के प्रमोद तिवारी, जितिन प्रसाद, राजेश मिश्रा और ललितेशपति त्रिपाठी शामिल हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.