Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का अपने हाथों से दूध पिलाने की यह तस्वीर एक योजना के शुभारंभ की है। चुनावी साल में सीएम वसुंधरा राजे को सारे वादे याद आ रहे हैं। उनकी सरकार ने राजस्थान के सरकारी स्कूलों और मदरसों में पढ़ने वाले करीब 62 लाख बच्चों के लिए अन्नपूर्णा दूध योजना का शुभारंभ किया है। इसे वसुंधरा सरकार की लंबी छलांग ही कहेंगे क्योंकि, राजस्थान स्कूलों में बच्चों के पोषण के लिए अन्नपूर्णा दूध योजना शुरू करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है।

मैं एक मां, बच्चों की सेहत की चिंता समझती हूं

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने दहमी कलां के राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक स्कूल में जयपुर के विभिन्न स्कूलों से आए बच्चों को अपने हाथों से गर्म दूध पिलाकर अन्नपूर्णा दूध योजना की पूरे प्रदेश में शुरुआत की। इस दौरान सीएम राजे को एक मां की भी याद आ गई। कहा कि, वह भी एक मां हैं और जानती हैं कि अपने बच्चे को तंदुरुस्त देखने का सुख क्या होता है।

Rajasthan is the first state to launch milk scheme in schools

इस मौके पर स्कूली बच्चों के साथ ही राजस्थान सरकार में नंबर दो की हैसियत रखने वाले गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया के साथ ही शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी, जयपुर के सांसद रामचरण बोहरा, विधायक कैलाश वर्मा समेत सूबे के कई मंत्री, विधायक और समाज के प्रतिष्ठित लोग मौजूद रहे।

अन्नपूर्णा दूध योजनाशुरू, 62 लाख बच्चों को हफ्ते में तीन दिन दूध

अन्नपूर्णा दूध योजना के तहत अब प्रदेश के सभी 66 हजार 506 स्कूलों के 62 लाख से अधिक बच्चों को मीड-डे-मिल योजना के तहत दूध पिलाया जाएगा। कक्षा 1 से 8 वीं तक के बच्चों को सप्ताह में 3 दिन ताजा शुद्ध और पौष्टिक गर्म दूध मिलेगा। इससे राज्य के 1148 स्कूलों, स्पेशल ट्रेनिंग सेंटर्स और मदरसों के 1.9 लाख स्टूडेंट्स का स्वास्थ्य बेहतर होगा। राजे ने महिला दुग्ध उत्पादक समितियों से जुड़ी महिलाओं को दूध की गुणवत्ता बनाए रखने का भी आग्रह किया।

Rajasthan is the first state to launch milk scheme in schools

राजस्थान के स्कूलों में मिडडेमील के बाद दूध

जाहिर है कि, बच्चे मिड-डे मील के साथ दूध पीकर स्वस्थ बनेंगे, तो हमारा आने वाला कल बेहतर होगा। लेकिन ये चुनावी दांव ही ज्यादा लगता है…क्योंकि एक मां का अपने बच्चे को लेकर चिंतित होना, उसकी बेहतरी के लिए उसे दर्द होना तो सीएम वसुंधरा राजे को बेहतर मालूम ही है…उन्हें ये भी मालूम है कि जनता उनसे कितनी खफा है और कांग्रेस को कितने नंबर दे सकती है…

बच्चे को प्रोटीन और कैल्शियम, राजे सरकार होगी मजबूत !

हालांकि, बच्चों को कुपोषण से मुक्ति दिलाने में अन्नपूर्णा दूध योजना काफी मददगार होगी। राजस्थान की वसुंधरा सरकार ने बच्चों के विकास के लिए बड़ी योजना शुरू की है। दूध से उन्हें प्रोटीन और कैल्शियम मिलेगा। ऐसे में सवाल यही कि, क्या जनता भी सीएम वसुंधरा राजे को एक और मौका देकर मजबूत बनाएगी ?

—कुमार मयंक एपीएन

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.