Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

कहते हैं कि एक मछली पूरे तालाब को गंदा कर देती है, लेकिन क्या हो जब पूरा तालाब ही गंदा हो। इस कहावत को भारतीय पत्रकारों ने सात समुंदर पार सच साबित कर दिया है। ईमानदारी और सच्चाई का प्रतिरूप मानें जाने वाले पत्रकारों की एक शर्मनाक हरकत सामने आई है। भारतीय पत्रकारों ने लंदन में इस पेशे को ही नहीं बल्कि पूरे देश को शर्मसार कर दिया है।

खबरों के मुताबिक पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ आधिकारिक टूर पर लंदन गए कुछ पत्रकारों ने होटल में डिनर के दौरान चांदी की चम्मचें चुरा लीं। पत्रकारों की यह हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। पत्रकारों को इस अपराध के लिए 50 पौंड का जुर्माना भरना पड़ा।

ख़बर के अनुसार होटल का स्टाफ़ उस समय भौंचक्का रह गया जब उसने देखा कि बनर्जी के साथ रात्रिभोज की टेबल पर बैठे पत्रकार चांदी की चम्मचें, छुरी-कांटे चुराकर अपने बैगों में डाल रहे हैं। बताया जाता है कि सबसे पहले एक प्रतिष्ठित बंगाली समाचार पत्र के संवाददाता ने चम्मच उठाकर अपनी जेब में डाली। आउटलुक से बातचीत में बनर्जी के साथ गए एक वरिष्ठ संपादक ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि वह संवाददाता नियमित रूप से मुख्यमंत्री के साथ विदेश दौरे पर जाता रहता है। ख़बर के मुताबिक़ उस संवाददाता को देख दूसरे कई मीडिया संस्थानों के प्रतिनिधि भी यही सब करने लगे। उन्हें यह भी भान नहीं रहा कि उनकी हरक़त पर नजर रखी जा रही होगी और पकड़े जाने पर उनके साथ मुख्यमंत्री को भी अपमानजनक स्थिति का सामना करना पड़ सकता है।

बताते हैं कि पत्रकारों की हरक़त को सीसीटीवी के जरिए लाइव देख रहे होटल स्टाफ़ के सदस्यों में पहले कुछ समय तक यह चर्चा होती रही कि सुरक्षा अलार्म बजाकर स्थिति से निपटा जाए। पर इससे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सम्मान और गरिमा को ठेस लगती। इसलिए यह विचार टाल दिया गया। क्योंकि रात्रिभोज पर बनर्जी के साथ भारत और ब्रिटेन के कई गणमान्य अतिथि भी वहां मौजूद थे।

लिहाज़ा रात्रिभोज के बाद होटल स्टाफ़ ने संबंधित पत्रकारों के पास जाकर उन्हें धीरे से बताया कि उनकी चोरी पकड़ी गई है। सब कुछ कैमरे में रिकॉर्ड हो चुका है। वहीं इतना सुनते ही लगभग सभी पत्रकारों ने चोरी के चम्मच, छुरी-कांटे बैग से निकालकर वापस कर दिए। लेकिन एक पत्रकार इस बात पर अड़ा रहा कि उसने चोरी नहीं की है। जिसके बाद होटल स्टाफ़ को उससे सख़्ती बरतनी पड़ी।

एक बंगाली पत्रकार ने बताया कि चोरी के आरोप में पकड़े गए पत्रकार समझ रहे थे कि सीसीटीवी कैमरे काम नहीं कर रहे हैं, क्योंकि अक्सर बंगाल में सीसीटीवी कैमरे काम नहीं करते। हालांकि ऐसा नहीं था। सभी कैमरे काम कर रहे थे। वहीं एक बंगाली पत्रकार के अनुसार विदेशों दौरे पर गए कुछ पत्रकारों की चम्मच चुराने की आदत होती है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.