Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नीरव मोदी के घोटाले के बाद राजनैतिक आरोपों प्रत्यारोपों के रोज नए नए समीकरण बनते दिख रहे हैं। सत्तासीन पार्टी बीजेपी को विपक्ष का तीव्र प्रतिरोध झेलना पड़  ही रहा है, उसके कुछ सहयोगी दल भी बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व और सरकार के कामकाजी रवैये पर सवाल उठा रहे हैं।  हालांकि बीजेपी विपक्ष के इस रवैये का डट कर जवाब दे रही है। पर जब उसके अपने ही पीठ में खंजर भोंके दे उसे समझ में नहीं आ रहा है कि वह इसका कैसे जवाब दे।

बीजेपी सांसद शत्रुध्न सिन्हा काफी अरसे से पार्टी और प्रधानमंत्री मोदी पर हमलावर रहे हैं। पीएनबी घोटाले पर प्रधानमंत्री मोदी एक बार फिर से अपनी ही पार्टी के इस “शत्रु” के निशाने पर आ गए। उन्होंने 16 से 18 फरवरी के बीच मोदी पर निशाना साधते हुए तीन ट्वीट किए। उन्होंने पहले ट्वीट में लिखा कि ‘हे प्रधान सेवक, हे प्रधान रक्षक, चौकीदार-ए-वतन, सभी धोखेबाज दिनदहाड़े फ्रॉड कर विदेश भाग गए, क्या हम नेहरू को ब्लेम कर सकते हैं, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए एयरलाइंस को लाइसेंस दिया’।

इसके बाद शत्रुध्न ने दूसरा ट्वीट 18 फरवरी को किया जिसमें लिखा कि ‘बड़ा चौकीदार सो गया, छोटा दमदार खो गया, और हम सब देखते रह गये।’ ऐसे ही तीसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ‘चौकीदार-ए-वतन के कैशलेस को ऐसे तो न लें, आगे अभी और लोग सामने आने वाले हैं’।

शत्रुध्न सिन्हा ही नहीं महाराष्ट्र में बीजेपीकी सहयोगी पार्टी शिवसेना ने भी पीएमबी घोटाले पर पार्टी पर तीखे हमले किए। उन्होंने सरकार पर कमेंट किया कि भगोड़े घोटालेबाज नीरव मोदी को आरबीआई का गर्वनर बनाया जाना चाहिए, ताकि वह देश को बर्बाद कर सके। उन्होंने मोदी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि हाल ही में यह सज्जन पीएम मोदी के साथ दावोस में तस्वीरें खिंचवाते नजर आया था।

बता दें कि पंजाब नेशनल बैंक में पिछले दिनों 11,356 करोड़ रुपए के घोटाले होने का खुलासा हुआ है। जिसके बाद इस घोटाले का मास्टरमाइंड हीरा व्यापारी नीरव मोदी देश छोड़ कर भागने में सफल हो गया ।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.