Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे जल्द अयोध्या के दौरे पर जाएंगे। पार्टी नेता संजय राउत ने राम मंदिर के मसले पर बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी ने मंदिर के मसले पर वादाखिलाफी की है जबकि शिवसेना का स्पष्ट मत, मंदिर निर्माण के पक्ष मे रहा है। आपको बता दें कि उद्धव ठाकरे अयोध्या जाने की तारीख का ऐलान, दशहरा रैली के दौरान करेंगे।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग लगातार तेज होती जा रही है। साधु-संतों के बाद अब राजनैतिक दल भी मंदिर की मांग को लेकर अपनी सियासत को चमकाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहते। केन्द्र सरकार की सहयोगी शिवसेना भी इसमें पीछे नहीं है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने इस बात का ऐलान कर दिया है कि दशहरे के बाद वो अयोध्या जाएंगे। पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने मंदिर के मुद्दे को लेकर बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 19 अक्टूबर को मुंबई में होने वाली पार्टी की वार्षिक दशहरा रैली में उद्धव ठाकरे की अयोध्या यात्रा की तारीख का ऐलान किया जाएगा।

संजय राउत का कहना है कि शिवसेना ने हमेशा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का समर्थन किया है। बीजेपी की मंशा पर सवाल उठाते हुए संजय राउत ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार को 4 साल से ज्यादा का वक्त हो चुका है। लेकिन बीजेपी ने अपने वादे को पूरा नहीं किया। आपको बता दें कि बुधवार को शिवसेना मुख्यालय, सेना भवन में रामजन्मभूमि न्यास के प्रमुख जन्मजय शरण महाराज से उद्धव ठाकरे की मुलाकात हुई है जिसमें उद्धव ठाकरे को अयोध्या आने का न्यौता दिया गया है और अब जल्द उद्धव ठाकरे अयोध्या के दौरे पर जाने की तैयारी कर रहे हैं।

कुल मिलाकर अयोध्या का मसला देश की सबसे बड़ी अदालत में है। जिस पर 29 अक्टूबर से सुनवाई होने जा रही है। उससे पहले सियासत एक बार फिर गर्म होने जा रही है। शिवसेना एक तीर से दो निशाना साधने की तैयारी में है।

पहला- इस मामले को लेकर बीजेपी पर वादाखिलाफी का आरोप लगाकर उस पर दबाव बनाने की रणनीति और दूसरा- राम मंदिर को लेकर शिवसेना की सक्रियता का संदेश देना।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.