Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कभी भी देश के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते हैं। उन्होंने कहा, मुझे समझ में नहीं आता कि आखिर कुछ राजनीतिक दल राहुल को देश का अगला पीएम क्यों घोषित कराना चाहते हैं ? वह लिखित तौर पर यह कबूल चुके हैं कि ब्रिटिश नागरिक हैं, लिहाजा वह कभी भी भारत के पीएम नहीं बन सकते। बीजेपी के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी की अध्यक्षता वाली एथिक्स कमेटी ने मेरी शिकायत ठंडे बस्ते में डाल दी थी। लेकिन गृह मंत्रालय इस मामले की जांच-पड़ताल कर रहा है।  ‏

ये भी पढ़े:भाजपा ने कहा-पाकिस्तान के पसंदीदा प्रधानमंत्री उम्मीदवार हैं राहुल गांधी

मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कहा था कि विपक्ष की तरफ से पीएम उम्मीदवार राहुल गांधी होने चाहिए। उनमें बीजेपी को हराने की ताकत है। हालांकि, स्टालिन का यह बयान विपक्ष के कई दलों को रास न आया। इनमें सपा, बसपा, एनसीपी, टीडीपी व टीएमसी शामिल हैं।

ये भी पढ़े :राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री बनने की दिखाई चाहत, कहा- मैं बनूंगा प्रधानमंत्री

एमके स्टालिन द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम विपक्ष के प्रधानमंत्री उम्मीदवार के रूप में प्रस्तावित करने के बाद टीएमसी नेतृत्व ने इसके बाद खुद को इस बयान से अलग कर लिया। टीएमसी ने कहा कि ये समय से पहले दिया गया बयान होगा. वरिष्ठ टीएमसी नेता व सांसद बोले, लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद विपक्षी पार्टियों द्वारा चर्चा के बाद ही प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम पर फैसला लिया जाना चाहिए। किसी भी तरह के एकपक्षीय फैसले से विपक्षी एकता का गलत संदेश जाएगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.