Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने विपक्षी दलों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डर से एकजुट होने का आरोप लगाते हुए कहा कि ये पार्टियां मोदी को बदनाम करना चाहती हैं। अठावले ने कहा कि कोलकाता में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की रैली में तमाम विपक्षी दलों के नेता एकजुट हुए। दरअसल वे सभी प्रधानमंत्री मोदी जैसे सशक्त नेता के डर की वजह से एक साथ आ रहे हैं। ये पार्टियां अनर्गल आरोप लगाकर मोदी को बदनाम करना चाहती हैं।

अठावले ने कहा कि विपक्षी दलों के पास कोई मुद्दा और नीति नहीं है, लिहाजा उनका गठबंधन कोई खास असर नहीं दिखा पाएगा। अठावले ने उत्तर प्रदेश में बने सपा-बसपा के गठबंधन का जिक्र करते हुए कहा कि इससे भाजपा पर कोई असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि ये दोनों दल अपने कोर मतदाताओं से एक-दूसरे के पक्ष में मतों का अंतरण नहीं करा पाएंगे।

बता दें कि केंद्रीय मंत्री ने बसपा प्रमुख मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि जब उन्होंने पूर्व में भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। तब उन्हें भाजपा साम्प्रदायिक नहीं लगती थी। मायावती में अगर नैतिकता है तो उन्हें भाजपा के साथ होना चाहिये था। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष अठावले ने उत्तर प्रदेश में भाजपा के साथ तालमेल करके लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जताते हुए कहा कि राज्य में 12 प्रतिशत दलित मतदाता उनके साथ हैं। अगर भाजपा प्रदेश में उनकी पार्टी को साथ ले तो वह बसपा को नुकसान पहुंचा सकती है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.