Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

कृष्णनगरी मथुरा में अपराधियों को भले पुलिस का खौफ हो न हो लेकिन जनता को इंसाफ मिलना मुश्किल ही लगता और दिखता है। तभी तो सेही चौकी के पुलिसकर्मियों को हथकड़ी लगाने के लिए दूर-दूर तक कोई मुजरिम ही नहीं मिलता। ऐसे में यहां तैनात पुलिसकर्मियों ने चौकी को ही हथकड़ी लगा दी और आराम फरमाने के साथ ही सैर-सपाटा के लिए निकल पड़े। जैसे कि, सेही पुलिस चौकी पर तैनात खाकीधारी किसी फालतू की जगह पर बैठे हों और उनका वहां से जाना बेहद जरुरी हो। वहीं, इलाके में खनन माफियाओं की बल्ले-बल्ले है।

तभी तो यूपी के मथुरा में पुलिसकर्मियों ने एक पुलिस चौकी को ही हथकड़ी पहना दी और घूमने निकल पड़े। मामला मथुरा जनपद के थाना शेरगढ़ की चौकी सेही का है। थाना शेरगढ़ की चौकी सेही में अनोखा दृश्य देखने को मिला। जब फरियादी अपनी फरियाद लेकर चौकी पंहुंचे तो यहां उन्हें चौकी के गेट पर हथकड़ी लटकी मिली। ऐसे में फरियादी उदास होकर उल्टे पांव लौट जाते हैं।

थाना शेरगढ़ की पुलिस चौकी सेही के पुलिसकर्मियों के पास एक अदद ताला तक खरीदने के पैसे नहीं हैं। ऐसा भी नहीं है कि, यूपी पुलिस के पास फंड नहीं है या इन पुलिसकर्मियों ने कोई दुकान न देखी हो जहां ताले मिलते हों। ऊपर से तुर्रा ये कि, सेही पुलिस चौकी के पास खुद की बिल्डिंग भी नही है। चौकी को एक सरकारी स्कूल में संचालित किया जा रहा है। यहां की पुलिस पर खनन माफियाओं के साथ सांठ-गांठ के आरोप लगते रहे हैं।

इलाके के लोगों का आरोप है कि यहां तैनात पुलिसकर्मी जब वसूली के लिए निकलते हैं तो चौकी के दरवाजे पर हथकड़ी लगा देते हैं। जिससे डर के मारे कोई फरियादी आए ही नहीं। लेकिन जब योगी राज में भी मथुरा जिले के थाना शेरगढ़ की पुलिस चौकी सेही में दिन में भी कोई पुलिसकर्मी मौजूद नही रहता तो रात का आलम क्या होता होगा।? ये पूछना भी शायद मथुरा की शेरगढ़ थाना पुलिस चौकी को नागवार गुजर जाए। अब फरियादी कहां जाते होंगे ये मत पूछिएगा। साहेब।!

-ब्यूरो रिपोर्ट एपीएन

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.