Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर तो सवाल उठते ही रहते हैं। साथ ही आए दिन रेप, हत्या, घूसखोरी जैसे मामले प्रकाश में आते रहते हैं जिससे यूपी की खोखली कानून व्यवस्था की पोल भी खुल जाती है। इसी कड़ी में सोशल मीडिया पर शुक्रवार को सामने आई कुछ तस्वीरों ने उत्तर प्रदेश पुलिस की छवि को और ज्यादा धूमिल करके रख दिया है। वायरल हो रही तस्वीरों में दावा किया जा रहा है कि यूपी पुलिस

किस शख्स से कितनी रिश्वत ले रही है। इन तस्वीरों ने सोशल मीडिया पर तहलका मचा कर रख दिया है जिसके बाद नोएडा एसएसपी ने जांच के आदेश जारी कर दिए हैं।

UP police's 'rate card' issue, SSP orders probe

इन तस्वीरों को यूपी पुलिस का रिश्वत का रेट कार्ड बताया जा रहा है। जिसमें लिखा है कि पुलिसवालों को किस शख्स से कितने रुपये लेने हैं, साथ ही यह भी लिखा है कि किस पुलिस अधिकारी को कितने रुपये देने हैं। इस मामले का संज्ञान लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौतमबुद्धनगर ने स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप का हिस्सा रहे 18 अफसरों का ट्रांसफर कर दिया, यह उनके डिमोशन की तरह है।

UP police's 'rate card' issue, SSP orders probe

ह्वाट्स ऐप पर बाकायदा रेट कार्ड जारी किया गया है। जिसमें बताया जा रहा है कि पुलिस त्योहारों के मौके पर किस तरह से इलाके के व्यापारियों और कारोबारियों से धनउगाही करती है। ह्वाट्स ऐप में लिखे गए संदेश में स्पष्ट तौर पर जिक्र है कि होटल मालिकों, कारोबारियों को कितना पैसा देना है। रिश्वत की ये रकम किस अनुपात में किन किन लोगों तक जानी है। भ्रष्टाचार का ये आरोप 18 स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप पर लगा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.