Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश के विभिन्न शहरों के नाम बदले जाने के फैसलों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सही ठहराया है। योगी आदित्यनाथ ने कहा, हमारी सरकार ने उत्तर प्रदेश के कई शहरों के नाम बदले हैं। हमें जो अच्छा लगा है हमने वह किया है और जहां पर आवश्यकता पड़ेगी सरकार वहां पर उस प्रकार का क़दम उठाएगी।

मालूम हो कि उत्तर प्रदेश के मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर दीनदयाल उपाध्याय नगर कर दिया गया है। इसके अलावा योगी सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज करने के प्रस्ताव को भी मंज़ूरी दे दी है। इतना ही नहीं बीते दिनों दिवाली के एक दिन पहले अयोध्या में हुए दीपोत्सव कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि फ़ैज़ाबाद ज़िले को अब अयोध्या के नाम से जाना जाएगा।

उत्तर प्रदेश के कई शहरों के फिर से नामकरण करने के क्रम में विभिन्न शहरों के नाम बदले जाने की मांग उठने लगी है। जैसे आगरा का नाम बदलकर अग्रवाल या अगरावण और मुज़फ़्फ़रनगर का नाम बदलकर लक्ष्मीनगर करने की बात की जा रही है।

तो वही शिवसेना ने शहरों के नाम बदलने को मतदाताओं को लुभाने का लॉलीपॉप बताया। शिवसेना ने शनिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश के शहरों का पुन: नामकरण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अगले साल के लोकसभा चुनाव से पहले मतदाताओं को लुभाने के लिए ‘लॉलीपॉप’ है।

पार्टी ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में भगवान राम की मूर्ति बनाने की आदित्यनाथ की घोषणा को लेकर भी उनकी निंदा की और कहा कि सरकार लोगों को गुमराह करने के लिए अयोध्या कार्ड खेल रही है क्योंकि वह सभी मोर्चो पर विफल रही है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.