Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश पुलिस की आपातलीन सेवा ‘यूपी-100‘ ने घटनास्थल पर पहुंचने के समय (रेस्पांस टाइम) में सुधार लाते हुए इसे 24 मिनट से घटाकर 15 मिनट कर लिया है। पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह ने यह दावा किया। ओम प्रकाश सिंह ने वर्ष 2018 के लिये ‘यूपी-100’ की सालाना रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि इस सेवा के रेस्पांस टाइम को 24 मिनट से घटाकर 14 मिनट 49 सेकेंड कर लिया गया है। यह मुश्किल में फंसे नागरिकों के लिये सच्ची और समयबद्ध मदद देने वाली सेवा बनकर उभरी है।

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि हमारा अगला लक्ष्य रेस्पांस टाइम को और सुधारकर इसे 10 मिनट करना है। साथ ही इसी माह शुरू होने वाले अर्द्धकुम्भ और उसके बाद आम चुनावों को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराना भी प्रमुख लक्ष्य होंगे। राज्य पुलिस प्रमुख ने कहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आकांक्षाओं के मुताबिक हमने आम लोगों में सुरक्षा की भावना पैदा करने के लिये सार्वजनिक स्थानों पर पुलिस की मौजूदगी बढ़ाने पर ध्यान दिया है। वर्ष 2018 में यूपी-100 ने करीब 52 लाख मामलों में कार्रवाई की। वहीं, वर्ष 2017 में यह आंकड़ा करीब 47 लाख था।

उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग अपने कर्मियों को प्रशिक्षण देने पर ध्यान केन्द्रित कर रहा है। करीब दो महीने के विचार-विमर्श के बाद एक पाठ्यक्रम तैयार कर पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया। यह भारत में पुलिस के लिये बना सबसे विस्तृत प्रशिक्षण है। इससे पुलिस का जनता के प्रति व्यवहार सुधरा है और शिकायतों में कमी आयी है।

उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम अपनी 50 बसों में पैनिक बटन लगाने वाला है, जिन्हें यूपी-100 से जोड़ा जाएगा। इसके अलावा भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण भी ‘हाईवे रेस्पांस सिस्टम’ की शुरुआत करने में जुटा है और इसे भी यूपी-100 से जोड़ा जाएगा। इसके अलावा निर्वाचन आयोग ने भी यूपी-100 से जुड़कर चुनाव से जुड़ी घटनाओं की वास्तविक समय पर सूचना प्राप्त करने की इच्छा जतायी है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.