Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बने अभी एक महीना भी पूरा नहीं हुआ है लेकिन छोटे से कार्यकाल में ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी को विकास की तरफ ले जाने का काम जोर-शोर से शुरू कर दिया है। सीएम योगी ने यूपी में सुरक्षा से लेकर बड़े-बड़े अधिकारियों की खबर लेने की क़वायद भी शुरू कर दी है।

APN Grab 07/4/2017उत्तर प्रदेश में शिक्षा के स्तर को आगे बढ़ाने के लिए भी कई अहम फैसले लिए गए हैं  साथ ही साथ यूपी को सुरक्षित बनाने और अपराधमुक्त करने के लिए भी तमाम प्रयास किये जा रहे हैं । एंटी रोमियो दल बनाकर यूपी में मनचलों की हरकतों पर लगाम लगाने की कोशिश की जा रही है। इसी कोशिश को और सक्षम बनाने के लिए  योगी सरकार ने छात्राओं के लिए यूपी के सभी स्कूलों में आत्मरक्षा की ट्रेनिंग देना अनिवार्य कर दिया है। आत्मरक्षा की इस ट्रेनिंग से स्कूलों में छात्राओं को खुद की रक्षा करना सिखाया जाएगा जिससे वह अपने ऊपर आने वाली परेशानियों का निपटारा कर सकें।

APN Grab 07/4/2017 -2शिक्षा के क्षेत्र में भी राज्य को आगे बढ़ाने के लिए योगी सरकार ने अब अंग्रेजी शिक्षा को नर्सरी कक्षा से पढ़ाना अनिवार्य कर दिया है इससे पहले अभी तक यूपी में यह शिक्षा बच्चों को छठी कक्षा से सिखाई जाती थी। यूपी में अंग्रेजी शिक्षा के महत्व पर भी जोर दिया जाएगा। यूपी में अंग्रेजी शिक्षा का स्तर काफी ख़राब माना जाता है जिसके चलते इस भाषा में बहुत विद्यार्थी फेल हो जाते हैं। यहां तक की नौवी-दसवीं  के छात्र भी अंग्रेजी भाषा को लिखना तो दूर पढ़ भी नहीं पाते हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी कहा था कि शिक्षा व्यवस्था में संस्कृति और आधुनिकता का मेल होना चाहिए। इसके साथ यूपी सरकार ने स्कूली शिक्षा में सही तरीके से टीचरों की भर्ती करने का वायदा किया है। शिक्षा मंत्री के मुताबिक परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए परिक्षाओं के दौरान सीसीटीवी कैमरों से मॉनिटरिंग होगी। वहीं स्कूलों में 220 दिन तक पढ़ाई जरूरी की जाएगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 जून 2015 को योग दिवस के दिन भारतवासियों को योग के महत्व को समझाते हुए बढ़ावा देने को कहा था जिसका पूरे विश्व ने समर्थन भी किया था। पीएम मोदी के इस विचार को आगे बढ़ाते हुए यूपी सरकार ने सभी स्कूलों में योग को पाठ्यकम्र में शामिल कर दिया है यानि अब यूपी के सभी स्कूलों में योग पढ़ाना अनिवार्य होगा।

APN Grab 07/4/2017 - 3योग को अनिवार्य बनाने को लेकर यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि योग शारीरिक शिक्षा का एक अंग होना चाहिए और इसलिए सरकार ने योग को अनिवार्य किया गया है। वहीं कांग्रेस के नेता और अभिनेता राजबब्बर ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि योग केवल यूपी में नहीं बल्कि सारे भारत में शारीरिक शिक्षा के तौर पर कराया जाता है। यह हम बचपन से करते आ रहे हैं इसमे कोई नई बात नहीं है। उन्होंने कहा कि योग को अनिवार्य करना उचित नहीं है क्योंकि हो सकता है कुछ छात्र इसे ना कर पाएं। ऐसे में उन छात्रों से जबरदस्ती योग कराने से स्कूलों में गलत माहौल पैदा हो जाएगा।

हालांकि योग अनिवार्यता के इस फैसले पर बीजेपी सांसद और अभिनेता शत्रुघन्न सिन्हा ने राजबब्बर के बिल्कुल उलट बोलते हुए पीएम मोदी की तारिफ की है। उन्होंने कहा इसे बहुत पहले ही अनिवार्य कर देना चाहिए था, पीएम का ये कदम काफी सराहनीय है कि वे यूएन में गए और योग दिवस की घोषणा करवाई। आपको बता दें कि बीजेपी नेता शत्रुघन्न सिन्हा पिछले कुछ वक्त से बीजेपी से नाराज चल रहे हैं लेकिन योग को लेकर उन्होंने केंद्र सरकार के पक्ष में बयान दिया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.