Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देशभर में किसानों की हत्याओं के मामले जगह-जगह से आते है,कहीं देश का पेट भरने वाला किसान खुद भूखा सो जाता है, तो कहीं कर्ज न चुका पाने की वजह से किसानों को आत्महत्या करनी पड़ती है। सरकारें किसानों की ऐसी हालत की जिम्मेदारी का ठीकरा एक-दूसरे पर फोड़ते है। यूपी में किसानों के अब अच्छे दिन लाने का जिम्मा सीएम योगी आदित्यनाथ ने ले लिया है।

यूपी की योगी सरकार अब किसानों के कर्ज को माफ करने के अपने वायदों पर अमल करना शुरु कर दिया है। योगी सरकार ने किसानों को पढ़ाने का फैसला लिया है। योगी ने ‘द मिलियन फार्मर्स स्कूल’ के नाम से किसानों को शिक्षित करने के लिए पाठशाला चलाने का फैसला लिया है। इससे किसानों की आय को दोगुना फायदा मिलेगा।

योगी सरकार ने अगले पांच सालों तक यूपी में किसानों की आय दोगुनी करने के लिए अहम फैसला लिया है। अब यूपी के प्राइमरी स्कूलों में किसानों की पाठशाला लगेगी। इस पाठशाला का शुभारम्भ सीएम योगी आदित्यनाथ 5 दिसम्बर से करने जा रहे हैं। ये पाठशाला सरकारी प्राइमरी स्कूलों में चलेगी। शाम 4 बजे से 5 बजे के बीच बच्चों की छुट्टी के बाद किसानों की पाठशाला सरकारी प्राइमरी स्कूलों में ही लगेगी।

कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने बताया कि इस पाठशाला में किसानों को कृषि विभाग के विशेषज्ञ आधुनिक खेती किसानी के टिप्स देंगे और प्रेक्टिकल करके भी दिखाया जाएगा। शाही ने बताया कि सीएम योगी आदित्यनाथ 5 दिसम्बर को 75 जिलों में मिलियन किसान पाठशाला का शुभारंभ करेंगे। इसके तहत करीब 10 लाख किसानों को उन्नतशील खेती के लिए प्रशिक्षित करने की तैयारी है।

सूबे के कृषि मंत्री ने बताया कि जिसके बाद अब कृषि विभाग ने भी कमर कस ली है। खेती के कायाकल्प का खाका तैयार हो चुका है। सबसे पहले किसानों को तकनीकी ज्ञान दिया जाएगा। इसके लिए हर पंचायत के दो दो राजस्व गांवों का चयन कर ‘मिलियन किसान पाठशाला’ खोली जाएगी।

जहां यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ किसानों की समस्याओं को लेकर हमेशा संजीदा रहते हैं। वहीं पिछले दिनों सीएम योगी ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की रणनीति का ऐलान भी किया था।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.