Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में हिंसा फैलाने वालों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है, कि अपराधियों को पहले ही चेतावनी दी जा चुकी थी, लेकिन अगर वे पुलिस पर गोली चलाएंगे तो उन्हें खामियाजा भुगतना ही होगा। राज्य में अपराधियों के एनकाउंटर को सही ठहराते हुए योगी ने कहा, कानून-व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए ऐसा करना आवश्यक हो गया है।

यह भी पढ़े: योगी की खुली चेतावनी, जो लोग बंदूक की भाषा समझते हैं उन्हें उसी भाषा में जवाब मिलेगा

एक सहयोगी मीडिया चैनल से रूबरू होते हुए योगी ने कई सवालों का खुल कर जवाब दिया। जब उनसे सवाल पूछा गया कि यूपी के निवेशक प्रदेश की बदहाल कानून व्यवस्था को लेकर चिंतित हैं ऐसे में उन्हें चिंता मुक्त करने के लिए सरकार ने एनकाउंटर का सहारा लिया है, तो क्या निवेशकों का भरोसा जीतने के लिए यह आपकी योजना का एक हिस्सा था?

इस सवाल का जवाब देते हुए योगी बोले, हमारी सरकार पहले दिन से यही कह रही है कि इस सरकार का गठन प्रदेश को अपराध-मुक्त बनाने के लिए ही किया गया था। अपने वादे को निभाते हुए हमारी सरकार ने बिना किसी भेदभाव के अपराधियों की धरपकड़ की है। इस मामले में हमने पहले उन्हें चेतावनी दी और फिर कार्रवाई की। हमने साफ तौर पर कहा, अगर आपने गोली चलाई, तो आपको परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना होगा। अगर आप मारते हैं तो, परिणाम आपके लिए अच्छे नहीं होंगे। पुलिस पर गोली चलाओगे तो ठीक नहीं होगा।

योगी ने कहा, आज आप हमारी चेतावनी का सुखद परिणाम देख सकते हैं। आज अपराधी सड़कों पर तख्तियां लेकर घूम रहे हैं जिन पर लिखा है, ‘मैं अपराधी नहीं हूं’।’  बता दे, इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने कहा था, कि आपराधिक प्रवर्ती के जो लोग समाज में अशांति फैलाने चाहते हैं और जो लोग सिर्फ बंदूक की भाषा समझते है, उन्हें उसी भाषा में समझाना चाहिए। योगी ने बताया, कि हर व्यक्ति को सुरक्षा का अधिकार मिलना चाहिए, लेकिन जो लोग सिर्फ समाज का माहौल बिगाड़ने में विश्वास रखते हैं, जिन्हें बंदूक की नोंक पर विश्वास है, उन्हें बंदूक की भाषा में ही जवाब भी दिया जाना चाहिए। यह मैं प्रशासन से कहूंगा कि इसमें घबराने की आवश्यकता नहीं है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.