Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

सुकमा में हुए बड़े नक्सली हमले में करीब 26 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए और कई जवान घायल हो गए। इस बड़े हमले पर पीएम ने ट्वीट के जरिए दुख: जताया। सुकमा हमले पर पहली बार अपनी प्रतिक्रिया देते हुए पीएम मोदी ने नक्सलियों द्वारा किए गए इस हमले को कायरतापूर्ण बताया और कड़ी निंदा भी की।

पीएम मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। हम स्थिति पर नजर बनाए हुए है,’ पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा, ‘हमें अपने जवानों पर गर्व है। उनकी शहादत को व्यर्थ नहीं जाने देंगे। इस हमले में घायल जवानों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’

 

पीएम मोदी के इन ट्वीट पर अनेकों प्रतिक्रियाएं आ रहीं है और ज्यादातर लोग पूछ रहे कि आखिर कब तक हम ऐसे ही शहीदों को शहादत पर शोक जताते रहेंगे। लोगों ने कहा है कि देश को बाहर के दुश्मनों से ज्यादा देश में बैठे गद्दारों से खतरा है। अब वक्त है 56 इंच का सीना दिखाने का।

रोहित गंगवार ने कहा जितना कायराना हमला है उतनी कायराना प्रतिक्रिया नहीं होनी चाहिए। जिसमें हम सिर्फ हर बार की तरह कड़ी निंदा करके भूल जाया करते हैं।

 

कुछ लोगों ने छत्तीसगढ़ की रमन सरकार भी सवाल उठाए कि वहां पिछले 15 साल से वहां बीजेपी की सरकार है लेकिन वहां के लोगों नक्सलवाद की समस्या का समाधान नहीं मिल पाया हैं। वहां के जवान आय दिन नक्सलियों की ऐसी कायराना हरकत का शिकार होते रहते हैं।

दरअसल, पीएम का ये ट्वीट बिल्कुल वैसा ही था जैसा कि उन्होंने उरी हमले के बाद किया था। उरी हमले में 17 जवानों के शहीद होने के बाद भी पीएम मोदी ने ऐसा ही सभी शहीदों की शहादत पर दुख: जताया था। इस हमले के बाद प्रधानमंत्री ने कहा था, ‘मैं देश को आश्वासन देना चाहता हूं कि हमले के पीछे दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। हमले में शहीद हुए जवानों को हम सैल्यूट करते हैं। राष्ट्र के लिए की गई उनकी सेवा हमेशा याद की जाएगी। हालांकि पीएम मोदी के बयान के ठीक 10 दिन बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सीमा में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक किया था। भारतीय फौजियों ने इस सर्जिकल स्ट्राइक में आतंकियों के कई कैंप तहस-नहस कर दिए थे, साथ ही करीब तीन दर्जन आतंकियों को मार गिराया था।

सुकमा हमले में भी उरी हमले की तरह आए बयान पर सोशल मीडिया में काफी चर्चा हो रही है। लोगों को उम्मीद है कि पीएम इस बार भी सीआरपीएफ के जवानों की शहादत का बदला नक्सलियों से जल्द ही लेंगे। पीएम द्वारा दिए गए इस संकेत पर दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने लिखा कि अगर पीएम मोदी ने कहा है बलिदान बेकार नही जाएगा तो यकीन मानिए बलिदान बेकार नही जाएगा। सर्जिकल स्ट्राइक कभी भी हो सकती है और कही भी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.