Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पाकिस्तान और अफगानिस्तान में कुदरत के कहर ने 100 से ज्यादा लोगों की जान ले ली। उत्तरी पाकिस्तान और अफगानिस्तान सीमा में हुए भीषण हिमस्खलन ने ऐसी तबाही मचाई कि वहां मौजूद लोगों को कुछ सोचने का वक्त तक नहीं मिला। सबसे ज्यादा जान-माल का नुकसान पाकिस्तान बॉर्डर के करीब अफगानिस्तान के नूरिस्तान गांव में हुआ। इस गांव में बर्फबारी से 50 लोगों की मौत हो गई वहीं उत्तरी पाकिस्तान में 30 लोगों के मरने की ख़बर है, इनमें से भी 9 लोग चित्राल कस्बे के एक ही गांव के थे।

प्राकृतिक आपदा मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद उमर मोहम्मदी ने बताया कि अफगानिस्तान और पाकिस्तान के कुछ हिस्सों में पिछले तीन दिन से बर्फबारी हो रही है जिसमें 168 घर बर्फ के नीचे दब कर मलबों में तब्दील हो गए हैं। प्रवक्ता के मुताबिक मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका है। राहत और बचाव कार्य जारी है लेकिन सड़कों पर जमे बर्फ से आवाजाही में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और पीड़ितों तक मदद पहुंचने में देरी हो रही है।

kasmir 2प्रकृति के इस भयावह मंजर ने पाकिस्तान-अफगानिस्तान के साथ-साथ भारत के पर्वतीय इलाकों को भी अपनी चपेट में ले लिया। जम्मू-कश्मीर और हिमाचल में भी पिछले 10 दिनों से बर्फबारी हो रही है। जम्मू-कश्मीर में ताजा बर्फबारी और आंधी की वजह से एक बच्चे समेत दो लोगों की मौत हो गई है। जम्मू-कश्मीर के दो जिलें डोडा और रामबाण में लगभग 180 मकान ढहने की ख़बर है। मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में लैंडस्लाइड की वॉर्निग जारी की है, जिसकी वजह से जम्मू-कश्मीर नेशलन हाईवे लगातार चार दिन से बंद है। यह हाईवे राज्य को देश के बाकी हिस्से से जोड़ता है और इसके लगातार 4 दिनों से बंद होने से जगह-जगह पर सैकड़ों वाहन फंसे हुए है।

कुदरत के बर्फबारी में बनाया रिकॉर्ड

  • घाटी में मौसम की तीसरी बर्फबारी
  • गुलमर्ग में 1.5 फीट
  • अफवरट में 2.5 फीट
  • सोनमर्ग में 2 फीट
  • महागुंस टॉप में 3 फीट
  • कुपवाड़ा में 8 इंच बर्फबारी के साथ 6 सेमी बारिश भी हुई, यहां का तापमान भी -0.7 डिग्री दर्ज किया गया
  • इसके अलावा पहलगांव, काजीगुंड, कोकड़नाग में भी मौसम का कहर जारी है।

मौसम विभाग के मुताबिक गुलमर्ग में शनिवार और रविवार को भंयकर बर्फबारी हुई, इसमे करीब 1.5 फुट बर्फ गिरी है। गुलमर्ग में रविवार को घाटी का सबसे कम तापमान -3.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड दर्ज किया गया। इतनी भयानक बर्फबारी को देखते हुए चंडीगढ़ स्थित स्नो एंड एवलांच स्टडी इस्टैब्लिशमेंट (SASE) ने जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में एवलांच की चेतावनी दी है। यह चेतावनी सोमवार शाम 5 बजे तक के लिए जारी की गई है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.