Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तरप्रदेश में छठे चरण का मतदान आज खत्म हो गया है। आज सात जिलों की 49 विधानसभा सीटों के लिए वोट डाले गए। छठे चरण में मतदान के बीच आज सभी दलों के नेताओं ने पूर्वांचल के गढ़ और बाबा विश्वनाथ की नगरी वाराणसी को अपने प्रचार के लिए चुना। आज यहाँ भाजपा की तरफ से वोट मांगने वाराणसी के सांसद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रोड शो कर समर्थन जुटाने पहुंचे। इसके जवाब में सपाकांग्रेस गठबंधन की तरफ़ से राहुल गांधीअखिलेश यादव और डिंपल यादव ने साझा रोड शो कर अपने प्रत्याशियों के पक्ष में जनता से समर्थन माँगा। भाजपा और गठबंधन के रोड शो के जवाब में बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी विशाल जनसभा कर दोनों दलों पर जोरदार हमला बोला। मायावती ने जहाँ मोदी के रोड शो में जुटी भीड़ को लेकर तंज़ कसा वहीं गठबंधन पर बोलते हुए कहा कि अंदरूनी कलह गठबंधन की हार तय कर चुका है।

Modi rallyवाराणसी में आज सभी दलों के नेताओं के पहुँचने से यहाँ राजनीतिक तापमान बढ़ गया और  जम कर एक दूसरे पर शब्द बाण चलाने के साथ आरोप-प्रत्यारोप लगाये गए। सबसे पहले आज देश के प्रधानमंत्री और स्थानीय सांसद नरेन्द्र मोदी बनारस पहुंचे। यहाँ उन्होंने मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अपना 12 किलोमीटर लम्बा रोड शो शुरू किया। मोदी के इस रोड शो में कार्यकर्ता पूरे जोश में दिखे। शो में जुटे अपार जनसमर्थन को देख भाजपा गदगद है। प्रधानमंत्री रोड शो के दौरान काशी विश्वनाथ मंदिर भी पहुंचे। यहाँ उन्होंने पूजा अर्चना भी की। इसके बाद मोदी आगे की अपनी यात्रा पूरी कर काल भैरव मंदिर तक गए। प्रधानमंत्री यहं तीन दिन के दौरे पर हैं। उनके अलावा भाजपा के 11 केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी वाराणसी में मौजूद हैं। रोड शो के बाद पीएम जौनपुर में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे। यहाँ उन्होंने विरोधियों को आड़े हाथों लिया और भाजपा को वोट देने की अपील की।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रोड शो से पहले आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर ज्ञानपुर स्थित पुलिस लाइन मैदान में हुई जनसभा से हमला बोलते हुए कहा, वाराणसी में प्रधानमंत्री और उनके तमाम मंत्रियों का जमावड़ा विधानसभा चुनाव में उनकी घबराहट जाहिर कर रहा है। राहुल-अखिलेश का साथ देने वाराणसी में आज डिंपल यादव भी रथ पर सवार हो रोड शो करने पहुंची। रोड शो के दौरान लोगों की अपार भीड़ और समर्थन को देख सभी नेता काफी खुश नजर आये। वाराणसी में 8 फरवरी को सातवें चरण में मतदान होना है। 2012 के विधानसभा चुनावों में वाराणसी की 5 विधानसभा सीटों में से 2 पर सपा ने जबकि 3 सीटें बीजेपी ने जीतीं थी। सातवें चरण में वाराणसी समेत 40 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने हैं। इसको लेकर सभी बड़े दलों और नेताओं की नजरें इन सीटों पर लग गई है।

पूर्वांचल के एक हिस्से में चुनावी सरगर्मी आज जहाँ संपन्न हुई वहीँ दूसरी तरफ बनारस सहित गाज़ीपुर में सरगर्मियां अपने उफान पर हैं। नेता आखिरी चरण का प्रचार ख़त्म होने से पहले अपना सब कुछ झोंक चुके हैं। जनता भी इन्हें देख सुन और समझ चुकी है। अब देखना यह है कि सभी नेताओं के कार्यक्रम में भीड़ का हिस्सा रही पब्लिक को कौन कितना अपनी तरफ करने में कामयाब होता है और वाराणसी के मतदाता किस तरफ जाते हैं। यह सब कुछ 11 मार्च को आने वाले नतीजों के बाद स्पष्ट हो जायेगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.