Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

राहुल गांधी और अखिलेश यादव ने पहली बार रविवार को  साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की और मीडिया के सवालों का जवाब दिया। अखिलेश और राहुल ने एक दूसरे का बचाव करते हुए मीडिया से बात की। दोनों नेता उन सवालों से बचते नजर आए जिससे गठबंधन पर असर पड़े

राहुल गांधी ने प्रेस कान्फ्रेंस की शुरूआत करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश ने इतिहास में अलग-अलग समय पर दुनिया को जवाब दिया है। 1857 में यूपी ने कंपनी राज का जवाब दिया है। उसी तरह हम देश को बांटने वाली शक्तियों को जवाब दे रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि इस गठबंधन से यूपी की जनता को प्रगति मिलेगी |  उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि सपा और कांग्रेस के बीच गठबधन हुआ है, अखिलेश और मेरे बीच व्यक्तिगत दोस्ती है। यदि पहले गठबंधन गलत था तो आज भी गलत होगा यह कहना गलत है। इस समय प्रदेश और  देश के लिए  कांग्रेस और सपा का गठबंधन ठीक है।

राहुल गांधी ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि आरएसएस जैसी ताकतों को हराएँ । हम जब भी लोकसभा चुनाव के लिए सपा के साथ गठबंधन करेंगे तो आपको जरूर बताएंगे और खुलकर इस बारे में अपनी बात रखेंगे। इस गठबंधन के जरिए हम उत्तर प्रदेश को बदलने जा रहे हैं और भाजपा की झूठ की राजनीति को खत्म करना चाहते हैं। प्रियंका गांधी के प्रचार मैदान में उतरने के बारे मे राहुल ने कहा कि प्रियंका मेरी बहन है और वह हमेशा मेरी मदद करती है, वह पार्टी के लिए काफी अहम है।

राहुल गांधी ने कहा कि मैं मायावती जी का व्यक्तिगत तौर पर सम्मान करता हुँ, उन्होंने यूपी में सरकार चलाई और कुछ गलतियां की। मायावती व भाजपा में बहुत बड़ा फर्क है। भाजपा क्रोध और  गुस्सा फैलाती है, एक हिंदुस्तानी को दूसरे हिंदुस्तानी से लड़ाती है और उसकी विचारधारा से हिंदुस्तान को खतरा है, जबकि मायावती की विचारधारा से देश को खतरा नहीं है। अगर हिंदुस्तान को लड़ना है तो हर धर्म के लोगों को एक साथ खड़ा होना पड़ेगा, जोड़कर आगे बढ़ना है, देश को तोड़कर हम आगे नहीं बढ़ा सकते है। मायावती और भाजपा की तुलना नहीं की जा सकती। 

इसके बाद सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि हम एक दूसरे को जानते हैं, बड़ी बात यह है कि हमें अब साथ काम करने का मौका मिला है। आबादी के लिहाज से यूपी एक बड़ा प्रदेश है, देश को राह दिखाता है। मैं भरोसा दिला सकता हुँ कि जिस रफ्तार से यूपी में काम हुआ है कांग्रेस के आ जाने से उस रफ्तार में और भी तेजी आ जाएगी।

अखिलेश ने कहा कि चुनाव में अब कम समय बाकी बचा है। पहली बार ऐसा है जब यूपी में लोगों ने मन में सरकार बना ली है। अब उन्हें जवाब मिलेगा जिन्होंने लोगों को लाइन में खड़ा कर दिया। अब लोग लाइन में लगकर नोटबंदी का जवाब देंगे।

पत्रकारों ने जब कांग्रेस के ’27 साल यूपी बेहाल के स्लोगन पर सवाल पूछा तो राहुल गांधी ने कहा कि मैंने एक कार्यक्रम में यह बात कही थी कि अखिलेश अच्छा लड़का है, उसे काम नहीं करने दिया जा रहा है। हम क्रोध और गुस्से की राजनीति को रोकना चाहते हैं इसलिए यह गठबंधन किया है।

हम यूपी के युवाओं को नई तरीके की राजनीति देना चाहते हैं। सपा और कांग्रेस में कई समानताएं हैं इसी  पर हम चुनाव लड़ रहे हैं। दोनों पार्टियों को इसमें आगे बढ़ना होगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.