Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

सिम को आधार नंबर से लिंक करना जरूरी कर दिया गया है। अगर आप अपना मोबाइल नंबर बिना किसी रुकावट के इस्तेमाल करते रहना चाहते है तो इसे जल्द से जल्द 6 फरवरी तक आधार से लिंक करवा लीजिए। अगर आपने ऐसा नहीं किया तो आपके मोबाइल की सेवाएं बंद हो सकती हैं। कुछ लोग बिजी शेड्यूल की वजह से आधार लिंक कराने के लिए टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइड के पास नहीं जा पाते हैं। मगर एक जनवरी 2018 से आप घर बैठे यह काम आसानी से कर सकेंगे।

नवंबर में टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने घोषणा कि कि लोग 1 दिसंबर से अपने घर बैठे मोबाईल नंबर को आधार से लिंक कर पाएंगे। लेकिन, किन्हीं कारणों से यह सेवा शुरू नहीं हो पाई। अब यह सेवा 1 जनवरी, 2018 से शुरू होगी।

फोन से आईवीआरएस को कॉल करना होगा

  • अपने मोबाइल नंबर के साथ अपने आधार विवरणों को जोड़ने के लिए, ग्राहकों को अपने मोबाइल नंबर से इंटरैक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम (आईवीआरएस) को कॉल करना होगा।
  • इसके बाद मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करने की अनुमति देनी होगी।
  • फिर यूजर को एक ओटीपी भेजा जाएगा, जो एक बार टाइप की गई प्रक्रिया पूरी कर लेंगे। उसके बाद ग्राहक को सूचित किया जाएगा कि उनका नंबर आधार के साथ लिंक कर दिया गया है।

आधार से लिंक होना चाहिए मोबाइल नंबर

हालांकि, उपभोक्ता इस सुविधा का लाभ केवल तभी उठा सकेंगे, जब उनका मोबाइल नंबर आधार डेटाबेस में पहले से ही मौजूद हो। यूआईडीएआई के सीईओ अजय भूषण पांडे ने बताया कि इससे लोगों को दूरसंचार आउटलेट पर पहुंचने के बिना आधार के साथ अपना मोबाइल नंबर सत्यापित करने में मदद मिलेगी। मगर, यह तभी हो पाएगा, जब उनका मोबाइल नंबर पहले ही आधार डेटाबेस में जोड़ लिया गया हो।

ऑटोमैटिक होगी पूरी प्रॉसेस

टेलिफोन सर्विस प्रोवाइडर्स से कहा गया है कि सभी वॉइस चैनल्स पर सुरक्षा के पूरे इंतजाम रखें। यह पूरा प्रोसेस ऑटोमैटिक होना चाहिए। सुरक्षा बिल्कुल बैंकों के आईवीआर की तरह ही होनी चाहिए। यूआईडीएआई का कहना है कि टेलिफोन सर्विस प्रोवाइडर्स ने सुनिश्चित किया है कि आधार नंबर को ऑपरेटर्स और कस्टमर रिलेशनशिप एग्जीक्यूटिव्स एक्सेस नहीं कर पाएंगे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.