Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

NEW DELHI: एक गलती आपके पूरे जीवनभर की मेहनत को बर्बाद कर देती है। एक ऐसा दाग लग जाता है जिसका निशान मरने के बाद भी नहीं मिट पाता। कुछ ऐसा ही हुआ तेलंगाना के कए पुलिसकर्मी के साथ।

इस सिपाही को बेस्ट कॉन्स्टेवल का अवॉर्ड मिला। लेकिन अवार्ड मिलने के 24 घंटे के बाद ही वह रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया। पुलिसकर्मी का नाम पल्ले तिरुपति रेड्डी है और वह महबूबनगर के एक पुलिस थाने में तैनात है।

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आबकारी मंत्री वी श्रीनिवास ने उसे प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया था। अवॉर्ड मिलने के अगले दिन ही एंटी करप्शन ब्यूरो ने तिरुपति को 17 हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथों पकड़ लिया और उसे गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट में पेशी के बाद आरोपी सिपाही को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

शिकायत करने वाले रमेश का आरोप है कि तिरुपति रेड्डी केस दर्ज नहीं करने के एवज में पैसों की मांग कर रहा था। पिछले महीने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अधिकारियों ने एक महिला राजस्व अधिकारी के घर से 93.5 लाख नकद और 400 ग्राम सोना बरामद किया था। उसे दो साल पहले राज्य के सर्वश्रेष्ठ तहसीलदार का अवॉर्ड मिला था।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.