Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लोकसभा चुनावों के बाद सभी एग्जिट पोल में फिर से एनडीए सरकार बनती दिख रही है। भारतीय जनती पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को एनडीए के सभी नेताओं को अपने घर डिनर पर बुलाया है। सूत्रों के हवाले से  इस डिनर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि इस डिनर में 23 मई के नतीजों के बाद नई सरकार में किसकी क्या भूमिका होगी इसे लेकर चर्चा की जा सकती है।

एग्जिट पोल में बढ़त लेने के बाद भाजपा और एनडीए के सहयोगियों का जोश बढ़ गया है। बता दें कि भाजपा के नेता दावा कर रहे हैं कि पार्टी इस बार एग्जिट पोल के अनुमानों से भी अधिक सीटें जीतेगी। पार्टी के नेताओं का कहना है कि अकेले भाजपा 300 से अधिक सीटें जीतने में कामयाब रहेगी। अलग-अलग टीवी चैनलों और एजेंसियों के एग्जिट पोल में भाजपा और उसके सहयोगी दलों को 287 से लेकर 387 सीटे जीतने का अनुमान व्यक्त किया गया है।

वहीं कांग्रेस और सहयोगी दलों को 77 से 148 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है। भाजपा के राजस्थान, गुजरात और मध्यप्रदेश में साल 2014 का प्रदर्शन दोहराने का अनुमान है। एग्जिट पोल के अनुमान के बाद पार्टी को यहां विधानसभा में हुए नुकसान की भरपाई होने की उम्मीद जगी है।

पीएम को बधाई संदेश

एग्जिट पोल के बाद ही एनडीए की सत्ता मे वापसी की उम्मीद के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई संदेश आने लगे हैं। मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति ने पीएम नरेंद्र मोदी को बधाई दी। मोहम्मद नशीद ने ट्वीट किया, ‘‘चुनाव खत्म होने के साथ ही नरेंद्र मोदी और भाजपा को बधाई देता हूं। मुझे यकीन है कि मालदीव की जनता और सरकार प्रधानमंत्री और बीजेपी की अगुआई वाली एनडीए सरकार के बीच करीबी रिश्ते और बेहतर होंगे।

गलत साबित होंगे एग्जिट पोल-कांग्रेस

दूसरी तरफ कांग्रेस ने एग्जिट पोल में गड़बडी का आरोप लगाया है। पार्टी का कहना है कि चुनाव परिणाम बिल्कुल इससे अलग होंगे। कांग्रेस के नेता शशि थरूर ने कहा कि जिस तरह से ऑस्ट्रेलिया में 56 एग्जिट पोल गलत साबित हुए थे उसी तरह से भारत में भी लोकसभा चुनाव 2019 के एग्जिट पोल गलत साबित होंगे। बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एग्जिट पोल को ‘अटकलबाजी’ करार देते हुए कहा कि उन्हें ऐसे सर्वेक्षणों पर भरोसा नहीं क्योंकि इस ‘रणनीति’ का इस्तेमाल ईवीएम में ‘गड़बड़ी’ करने के लिए किया जाता है।

उधर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती से मिलने उनके आवास पर पहुंचे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.