Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में 5 किसानों की मौत के बाद से ही हिंसा और तनाव का माहौल  है। राज्य में गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने मंदसौर, देवास, नीमच, धार और इंदौर सहित कई हिस्सों में लूटपाट, आगजनी, तोड़फोड़ और पथराव किया। इस बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पुलिस गोलीबारी में मारे गए किसानों के परिवारों से मिलने मंदसौर के लिए रवाना हो चुके हैं। राहुल गांधी उदयपुर के रास्ते मंदसौर जा रहे है और वह उदयपुर पहुंच चुके हैं।

death of 5 farmers in Mandsaur district of Madhya Pradeshहालांकि इससे पहले ख़बर आई थी कि राहुल गांधी कल यानि 7 जून को ही मंदसौर जाने वाले थे लेकिन प्रशासन ने उनके हेलीकॉप्टर को उतरने की इजाजत नहीं दी इसलिए उन्होंने आज मंदसौर जाने का फैसला लिया। हालांकि आज भी प्रशासन की तरफ से लैंडिंग की इजाजत नहीं मिली है। ऐसे में राहुल उदयपुर के रास्ते मध्य प्रदेश में प्रवेश करेंगे। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, राहुल गांधी गुरुवार सुबह फायरिंग में मारे गए किसानों के घरवालों से मिलेंगे। इस दौरान उनके साथ कांग्रेस सांसद कमलनाथ और मोहन प्रकाश के अलावा जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव भी होंगे।

राहुल गांधी की इस यात्रा को लेकर बीजेपी और कांग्रेस के बीच जुबानी जंग जारी है। एक ओर जहां बीजेपी राहुल गांधी को ट्रेजडी ट्रैवलर का दर्जा दे रही है और उनपर राज्यों में हिंसा भड़काने का आरोप भी लगा रही है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस सत्ताधारी केंद्र सरकार पर लगातार आरोप लगा रही है कि 2014 लोकसभा चुनाव में जो वादा किया उनमें से किसी को भी पूरा नहीं किया। साथ ही कांग्रेस नरेंद्र मोदी सरकार को किसान विरोधी बताते हुए आरोप लगाया कि इस सरकार को किसान की कोई चिंता ही नहीं है।

गौरतलब है कि मंदसौर में गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने जगह-जगह तोड़फोड़ की, कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया और पुलिस पर पथराव भी कर दिया। हालांकि जिले में तनाव को देखते हुए प्रशासन ने आसपास के चार जिले में किसी भी विमान के लैंड करने की मनाही कर रखी है, वहीं इंटरनेट सेवाएं भी पूरी तरह से बैन कर दी गई है। वहीं मंदसौर में किसानों पर हुई फायरिंग के बाद मध्य प्रदेश के कई जिलों में जारी बवाल के बीच मंदसौर के एसपी और कलक्टर का ट्रांसफर कर दिया गया है। ओपी श्रीवास्तव मंदसौर के नए कलक्टर होंगे जबकि मनोज सिंह एसपी होंगे।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले तक देश में गाय और दलित को लेकर विवाद चल रहा था और अब किसानों का विवाद एक बड़ा मुद्दा बन गया है। पहले महाराष्ट्र में परेशान किसानों ने अपने कर्जमाफी की मांग के लिए विरोध प्रदर्शन किया तो अब मध्य प्रदेश के किसान भी सरकार से सीधी टक्कर लेने के मूड में दिखाई दे रहे हैं। मध्य प्रदेश के मंदसौर में विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों के ऊपर गोली चलने के बाद किसान और भी ज्यादा उग्र हो गए है। यही वजह है कि किसान की कर्जमाफी की यह क्रांति अब धीरे-धीरे पूरे राज्य और पूरे देश में फैलती जा रही है। देश में फैलती हिंसा और किसानों की समस्या का समाधान करने के बजाय राजनैतिक पार्टियां अपनी पार्टी को मजबूत बनाने और हिंसा की आग में अपनी राजनीति की रोटियां सेकने में लगी हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.