Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों की चैंपियन भारत की सायना नेहवाल को 18वें एशियाई खेलों में सोमवार को बैडमिंटन स्पर्धा के महिला एकल सेमीफाइनल में हार के बाद कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। शीर्ष वरीय चीनी ताइपे की ताई जू यिंग के हाथों सायना को लगातार गेमों में 17-21, 14-21 से शिकस्त झेलनी पड़ी। ताई ने भारतीय शटलर के खिलाफ बढ़िया खेल दिखाया और 18-14 की बढ़त और लगातार चार अंक लेकर 21-17 से पहला गेम जीता। सायना को मैच में कई बार गलत फूटवर्क का खामियाजा भी भुगतना पड़ा और वह 10-11 से पिछड़ गयीं। हालांकि 10वीं रैंक भारतीय खिलाड़ी ने लंबी रैली खेलते हुये जू यिंग के खिलाफ लगातार अंक जुटाये। वह मैच में बने रहने के लिये एक एक अंक जुटाने को जूझती दिखीं।

उन्होंने कई बार स्कोर बराबरी का प्रयास किया लेकिन गलतियों से वह 14-21 से गेम और 36 मिनट में मैच गंवा बैठीं। सेमीफाइनल मुकाबला गंवाने के साथ उन्हें कांस्य से संतोष करना पड़ा। हालांकि सायना एशियाई खेलों में महिला एकल में पदक जीतने वाली पहली खिलाड़ी बन गयी हैं। उनके बाद अब सारी निगाहें एकल की अन्य खिलाड़ी और ओलंपिक रजत विजेता पीवी सिंधू पर लग गयी हैं।

मोदी ने कांस्य जीतने पर सायना को दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्टार भारतीय शटलर सायना नेहवाल को 18वें एशियाई खेलों में बैडमिंटन में महिला एकल स्पर्धा का कांस्य पदक जीतने पर बधाई दी है। श्री मोदी ने टि्वटर पर अपने बधाई संदेश में कहा कि सायना नेहवाल ने हमें गौरवान्वित कर इतिहास रच दिया! एशियाई खेल 2018 में उनका कांस्य पदक बैडमिंटन की महिलाओं की एकल स्पर्धा में किसी भी भारतीय महिला का पहला पदक है। हमारी बैडमिंटन स्टार की एक और सफलता के लिए भारत उन्हें बधाई देता है।

गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता सायना नेहवाल को एशियाई खेलों में सोमवार को बैडमिंटन स्पर्धा के महिला एकल सेमीफाइनल में हार के बाद कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

                                         साभार- ईएनसी टाईम्स

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.