Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भारत दौरे पर आ रही ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाफ खेलने के लिए टीम इंडिया का ऐलान हो चुका है। पांच मैचों की इस श्रृंखला के शुरूआती तीन मैचों के लिए टीम का ऐलान हुआ है, जिसमें टीम के दोनों प्रमुख स्पिनरों रविंद्र जडेजा और आर आश्विन दोनों को आराम दिया गया है। हालांकि श्रीलंका दौरे पर वन-डे टीम में शामिल नहीं किए गए तेज गेंदबाजों मुहम्मद शमी और उमेश यादव की वापसी हुई है। जबकि टीम इंडिया के अनुभवी खिलाड़ियों सुरेश रैना और युवराज सिंह को फिर से टीम में जगह नहीं मिली है। कुछ विशेषज्ञ इसे दोनों खब्बू बल्लेबाजों के अंतर्राष्ट्रीय कैरियर की समाप्ति बता रहे हैं।

बाकी की टीम लगभग वही है, जो श्रीलंका दौरे पर गई थी। हालांकि युवा तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर टीम में अपनी जगह नहीं बचा पाए हैं, लेकिन उन्हें न्यूजीलैंड जा रही इंडिया-ए टीम में जगह मिली है। चोट से उबर रहे शिखर धवन की टीम में वापसी हो गई है, जो रोहित शर्मा के साथ सलामी बल्लेबाजी की बागडोर संभालेंगे। इसके अलावा लोकेश राहुल और अंजिक्य रहाणे रिजर्व ओपनर के तौर पर टीम में हैं, जो मध्यक्रम में भी बल्लेबाजी कर सकते हैं। निचले मध्यक्रम की जिम्मेदारी अनुभवी धोनी के साथ केदार जाधव और मनीष पांडेय के कन्धों पर होगी। जडेजा और आश्विन की अनुपस्थिति में युवा स्पिन तिकड़ी यजुवेंद्र चहल, कुलदीप यादव और अक्षर पटेल स्पिन विभाग की जिम्मेदारी संभालेंगे। इन तीनों ने श्रीलंका के खिलाफ काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। टीम में एकमात्र आल राउंडर हार्दिक पांड्या हैं, जो गेंद और बल्ले से कभी भी प्रहार कर सकते हैं। शमी और उमेश के आने से भुवी और बुमराह की अगुवाई वाले तेज गेंदबाजी आक्रमण को और मजबूती मिलेगी।

जडेजा ने जतलाया दुःख

कहा जा रहा है कि रविंद्र जडेजा और आश्विन को आराम दिया गया है। लेकिन शायद जडेजा को ऐसा नहीं लगता, इसलिए उन्होंने टीम के चयन के बादउन्होंने ट्विटर पर अपने घोड़े साथ फोटो शेयर करते हुए लिखा, ‘अपनी असफलताओं से अपनी वापसी को मजबूत बनाओ।’ जडेजा ने इशारों-इशारों में बताने की कोशिश कि उन्‍हें आराम नहीं दिया गया है बल्कि उन्‍हें टीम से बाहर निकाला गया है।

jadeja tweet

हालांकि बाद में जडेजा ने ये ट्वीट डिलीट भी कर लिया। पिछली बार भी जब उन्‍हें आईसीसी ने एक टेस्‍ट मैच के लिए निलंबित कर दिया था। तब उन्होंने ट्ववीट किया था, ‘हम थोड़े शरीफ क्या हुआ, पूरी दुनिया ही बदमाश हो गई।’

आपको बता दें कि जडेजा का यह डर जायज भी है क्योंकि टेस्ट क्रिकेट के नंबर दो इस गेंदबाज का वन-दे क्रिकेट में पिछले दो साल में प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है। साल 2015 से 17 में खेले 27 वनडे मैचों में जडेजा ने महज 21 विकेट चटकाए है, वहीं बल्ले से भी उन्होंने 27 मैचों में महज 223 रन बनाए हैं। चैंपियंस ट्रॉफी में भी जडेजा 5 मैचों में सिर्फ 4 ही विकेट ले पाए थे। इस दौरान जडेजा का इकोनॉमी रेट भी लगभग 6 के आसपास था।

हालांकि टीम इंडिया का यह चयन सिर्फ 3 मैचों के लिए किया गया है। उनको उम्मीद होगी कि सीरीज के बाकी बचे दो मैचों में उनको ‘आराम’ का बहाना ना दिया जाए।

टीम इंडिया के चयनित खिलाड़ियों के नाम जानने के लिए यहां क्लिक करें।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.