Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

क्रिकेट में रिकॉर्ड बनना और टूटना कोई बात नहीं है। भारतीय टीम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने किक्रेट के मैदान पर इतिहास रच दिया है। चेतेश्वर पुजारा ने सोमवार को कोलकाता टेस्ट मैच में श्रीलंका के खिलाफ एक स्पेशल रिकॉर्ड बनाया है।

 पुजारा ने ईडन गार्डस के मैदान पर एक खास मुकाम हासिल कर दुनिया के चुनिंदा बल्लेबाजों की लिस्ट में अपना नाम शामिल कर लिया है। आपको बता दें कि पुजारा यह मुकाम हासिल करने वाले भारत के तीसरे और दुनिया के नौवें बल्लेबाज बन गए है। 140 साल के टेस्ट क्रिकेट इतिहास में ऐसा मौका सिर्फ नौवीं बार आया और इस रिकॉर्ड के साथ कोलकाता के ईडन गार्डंस का स्पेशल कनेक्शन भी जुड़ गया है।

पुजारा जैसे ही सोमवार को कोलकाता टेस्ट मैच में भारत की दूसरी पारी में अपनी बल्लेबाजी जारी रखने क्रीज पर उतरे, उन्होंने इतिहास रच दिया। वे 22 रन बनाकर सुरंगा लकमल के शिकार बने। पुजारा ईडन गार्डस में पांचों दिन खेलने वाले भारत की और से तीसरे बल्लेबाज गए है।

पुजारा 16 ‍नवंबर से श्रीलंका के खिलाफ शुरू हुए वर्षा बाधित इस टेस्ट मैच के पहले दिन क्रीज पर उतरे थे और बारिश के कारण खेल समाप्त ‍घोषित किए जाने तक 8 रन बनाकर नाबाद थे। टेस्ट के दूसरे दिन भी बारिश का कहर जारी रहा। वहीं दो दिनों में कुल 32.5 ओवरों का खेल ही हो पाया और पुजारा इस दिन 47 रन बनाकर खेल रहे थे। पुजारा तीसरे दिन 52 रन बनाकर आउट हुए थे। चौथे दिन भारत की दूसरी पारी शुरू हुई और पुजारा 9 गेंदों का सामना कर 2 रन बनाकर नाबाद रहे। इस तरह वे लगातार चारों दिन बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर उतरे थे। पांचवें दिन जैसे ही उन्होंने मोर्चा संभाला उनका नाम भी इस विशिष्ट समूह में शामिल हो गया।

पुजारा के इस रिकॉर्ड के साथ ही कोलकाता के ईडन गार्डंस का स्पेशल कनेक्शन जुड़ गया है। ईडन गार्डंस दुनिया का एकमात्र ऐसा मैदान है जिसे इस रिकॉर्ड का तीन बार साक्षी होने का मौका मिला। पुजारा के जरिए ईडन ने इस अनोखे रिकॉर्ड की हैट्रिक पूरी की। इससे पहले एमएल जयसिम्हा यहां पर 1960 में और रवि शास्त्री 1984 में इस कारनामे को अंजाम दे चुके थे।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ईडन गार्डंस में 23-28 जनवरी 1960 तक हुआ पांचवां टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था, लेकिन जयसिम्हा ने इस मैच को अमर कर दिया। वे किसी टेस्ट मैच के पांचों दिन बल्लेबाजी करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बने थे।

इसके बाद रवि शास्त्री ने इस उपलब्धि को दोहराया था भारत और इंग्लैंड के बीच 31 दिसंबर से 5 जनवरी तक खेला गया तीसरा टेस्ट मैच रवि शास्त्री के लिए यादगार बन गया। वे इस वर्षा प्रभावित मैच में पांचों दिन बल्लेबाजी करने मैदान में उतरने वाले दूसरे बल्लेबाज बने। शास्त्री मैच के अंतिम दिन यानी पांचवें दिन भारत की दूसरी पारी में बल्लेबाजी के लिए उतरे और 7 रन बनाकर नाबाद रहे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.