Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आईसीसी टूर्नामेंट्स में पाकिस्तान के विरुद्ध भारत की जीत कोई नई बात नहीं है पर भारत का आसानी से जीत जाना अब एक नया ट्रेंड बनता जा रहा है। अब भारत पाकिस्तान मैचों में वह रोमांच नहीं रहा, जिसकी उम्मीद एक आम क्रिकेट प्रेमी करता है। बर्मिंघम के ऐजबेस्टन मैदान में कल खेले गए मैच में भारत ने पाकिस्तान को आसानी से 124 रनों से रौंद दिया। इससे पहले विश्व कप 2015 के लीग मैच में भारत ने पाकिस्तान को 76 रन के बड़े अंतर से मात दिया था।

India beats Pakistanटॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उत्तरी भारतीय टीम को उसके सलामी बल्लेबाजों शिखर धवन और रोहित शर्मा ने एक शानदार शुरुआत दी। मैच में बारिश का खलल बार-बार पड़ने के बावजूद भारतीय बल्लेबाज अपने लय से नहीं भटक रहे थे। भारत की सलामी जोड़ी रोहित शर्मा और शिखर धवन ने पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़कर पाकिस्तानी गेंदबाज़ों का मनोबल पूरी तरह तोड़ दिया। रोहित शर्मा ने सात चौके और दो छक्कों की मदद से 91 और शिखर धवन ने 6 चौके और एक छक्के की मदद से 68 रन बनाए। रोहित शर्मा दुर्भाग्यशाली रहे जो 91 के निजी स्कोर पर बाबर आज़म के सीधी थ्रो पर रन आउट हो गए और अपना शतक पूरा ना कर सकें। पाकिस्तानी टीम की खराब फील्डिंग ने भी भारत को बड़ा स्कोर बनाने में मदद की। उन्होंने 3 से अधिक कैच टपकाये और कई बार मिस फील्डिंग भी किया। युवराज सिंह को शुरुआत में ही जीवनदान मिला, जिसका फायदा उठाते हुए उन्होंने ताबड़तोड़ 32 गेंदों पर 53 रन बनाए। कप्तान विराट कोहली ने भी जमकर बल्लेबाज़ी करते हुए केवल 68 गेंदों पर नाबाद 81 रनों की पारी खेली। युवराज सिंह के आउट होने के बाद हार्दिक पांड्या ने भी अपने हाथ खोलते हुए सिर्फ 6 गेंदों में 20 रन ठोक डाले, जिसमे अंतिम ओवर के पहले 3 गेंदों पर लगातार 3 छक्के भी शामिल हैं। भारतीय बल्लेबाजों ने अंतिम चार ओवर में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 72 रन बटोरे।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाजों अजहर अली और अहमद शहजाद ने जब 4.5 ओवर में 22 रन बनाए थे, तब बारिश आ गई और मैच रोकना पड़ा। मैच दोबारा शुरू होने पर पाकिस्तान को 41 ओवर में 289 रन बनाने का लक्ष्य मिला। भुवनेश्वर ने अहमद शहजाद (12) को एलबीडब्ल्यू आउट कर पाकिस्तान को पहला झटका दिया। इसके बाद लगातार अंतराल पर पाकिस्तान के विकेट गिरते रहे और पाकिस्तान का स्कोर 91 रन पर 3 विकेट हो गया,जिसमे अजहर अली का अर्धशतक (50 रन,65 गेंद) भी शामिल था।

इसके बाद शोएब मालिक और मुहम्मद हफीज की सबसे अनुभवी जोड़ी क्रीज पर थी। उन्होंने कुछ अच्छे शॉट भी दिखाए और तब तक लग रहा था कि मैच में पाकिस्तान की टीम बनी हुई है। शोएब मलिक (15) ने पंड्या पर लगातार 2 चौकों के साथ 22वें ओवर में टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया। उन्होंने जाडेजा पर पारी का पहला छक्का भी मारा, लेकिन उमेश के अगले ओवर में जाडेजा ने उन्हें अपने सटीक निशाने से रन आउट कर पाकिस्तान का स्कोर 4 विकेट पर 114 रन कर दिया। मोहम्मद हफीज भी 43 गेंद में 33 रन बनाने के बाद जाडेजा की गेंद को डीप मिडविकेट पर भुवनेश्वर के हाथों में खेल गए हफीज के आउट होने के बाद पाकिस्तान की टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और पूरी टीम 164 रन बनाकर आउट हो गई। उमेश यादव ने पाकिस्तान के निचले क्रम को निपटाने का काम किया।  वहाब रियाज चोट के कारण बल्लेबाजी करने नहीं उतरे। इस तरह पाकिस्तान ने यह मैच 124 रन से गवां दिया।

मैच के बाद पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने अंतिम ओवरों में टीम की खराब गेंदबाजी पर निराशा जताई। उन्होंने कहा, ‘40 ओवर के बाद सब कुछ नियंत्रण में था लेकिन अंतिम आठ ओवर में हमने मौका गंवा दिया। इसके लिए भारतीय बल्लेबाजों को पूरा श्रेय जाता है, जिन्होंने अंतिम आठ ओवरों में 124 रन बनाए और मैच को हमसे दूर ले गए।’

वहीं कोहली ने कहा, ‘रोहित और धवन ने काफी अच्छी शुरुआत की। युवी काफी अच्छी लय में थे और उनके सामने मैं क्लब क्रिकेटर लग रहा था। हार्दिक ने सिर्फ छह गेंद में जो नाबाद 20 रन बनाए, वह शानदार था।’

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.