Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

c_row]

चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने चार, तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने तीन और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने दो विकेट लेकर तथा ओपनर शिखर धवन (नाबाद 75) ने शानदार अर्धशतक ठोककर भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वनडे में बुधवार को आठ विकेट से एकतरफा जीत दिला दी। भारत ने इस जीत के साथ पांच मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।

भारत ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से न्यूजीलैंड को 38 ओवर में 157 रन पर निपटाने के बाद 34.5 ओवर में दो विकेट के नुकसान पर 156 रन बनाकर जीत अपने नाम की। भारत की यह लगातार तीसरी वनडे जीत है। भारत ने इससे पहले ऑस्ट्रेलिया में आखिरी दो वनडे जीतकर वनडे सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी। भारत के लिए लक्ष्य मुश्किल नहीं था और उसे इसे हासिल करने में कोई परेशानी नहीं हुई। भारत को पहले 50 ओवर में 158 रन का लक्ष्य मिला था लेकिन डिनर ब्रेक के बाद विकेट के एक छोर पर डूबते सूरज की सीधी किरणें पड़ने से आधे घंटे तक खेल रोकना पड़ा और फिर भारत के लिए लक्ष्य 49 ओवर में 156 रन कर दिया गया।

शिखर ने भारत को जीत दिलाने में 26वां अर्धशतक बनाया और साथ ही एकदिवसीय क्रिकेट में 5000 रन पूरे कर लिए। 33 वर्षीय शिखर ने 118 वीं पारी में 5000 रन पूरे किये और सबसे तेज 5000 रन पूरे करने में संयुक्त रूप तीसरे बल्लेबाज बन गए। शिखर ने 103 गेंदों में छह चौकों की मदद से नाबाद 75 रन बनाये। भारत ने मेजबान टीम की पारी को 38 ओवर में समेट दिया था इसलिए उसे डिनर ब्रेक पर जाने से पहले नौ ओवर खेलने को मिले और इस दौरान उसने बिना कोई विकेट खोये 41 रन बनाये।

इसमें शिखर का योगदान 29 और रोहित शर्मा का योगदान 11 रन था। डिनर ब्रेक के बाद खेल शुरू होते ही 10वें ओवर में रोहित ने डग ब्रेसवेल की गेंद पर स्लिप में मार्टिन गुप्तिल को कैच थमा दिया। रोहित ने 24 गेंदों पर 11 रन में एक चौका लगाया। इस ओवर के पूरा होते ही विकेट के एक छोर पर सूरज की सीधी किरणों की बाधा के कारण खेल आधे घंटे तक रोकना पड़ा। खेल शुरू होने पर शिखर और कप्तान विराट कोहली ने बेहद आराम से स्कोरबोर्ड को चलायमान रखा। शिखर ने अपना 26वां अर्धशतक 69 गेंदों में छह चौकों की मदद से पूरा किया। इससे पहले भारत के 100 रन 20.5 ओवर में पूरे हो गए। पारी के 25वें ओवर में विराट को टिम साउदी की गेंद पर पगबाधा करार दिया गया लेकिन विराट ने रेफरल मांगा और अंपायर को अपना फैसला बदलने के लिए मजबूर होना पड़ा। हालांकि हॉटस्पॉट पर बल्ले पर कोई निशान दिखाई नहीं दे रहा था लेकिन स्निकोमीटर पर हरकत ने विराट को बचा लिया।

विराट का उस समय स्कोर 37 और भारत का स्कोर 115 रन था। विराट हालांकि फिर अपने स्कोर में आठ रन का ही इजाफा कर पाए और लोकी फर्ग्युसन की गेंद पर विकेटकीपर टॉम लाथम को कैच थमा बैठे। विराट ने 59 गेंदों पर 45 रन में तीन चौके लगाए और भारत का दूसरा विकेट 132 के स्कोर पर गिरा।विराट का विकेट गिरने के बाद मैदान पर उतरे अंबाटी रायुडू ने शिखर का साथ दिया और दोनों ने भारत को 35वें ओवर में जीत की मंजिल पर पहुंचा दिया। रायुडू ने 35 वें ओवर में चौका मारकर स्कोर बराबर किया और फिर एक रन लेकर जीत भारत की झोली में डाल दी। रायुडू 23 गेंदों में 13 रन पर नाबाद रहे।

इससे पहले न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन कीवी टीम शमी के शुरूआती दो झटकों से अंत तक नहीं उबर पायी। शमी मैन ऑफ द मैच रहे। विलियम्सन ने एकतरफा संघर्ष करते हुए 81 गेंदों में सात चौकों की मदद से सर्वाधिक 64 रन बनाये। रॉस टेलर ने 41 गेंदों में तीन चौकों के सहारे 24 रन का योगदान दिया। मिशेल सेंटनर 14, हेनरी निकोल्स 12 और विकेटकीपर टॉम लाथम 11 दहाई की संख्या में पहुंचने वाले अन्य बल्लेबाज रहे।

न्यूजीलैंड ने अपने पहले पांच विकेट 107 रन जोड़कर और आखिरी पांच विकेट मात्र 24 रन जोड़कर गंवाए। कीवी बल्लेबाज शमी की तेजी से दहले तो कुलदीप-चहल की फिरकी उनकी समझ से बाहर थी। शमी ने छह ओवर में 19 रन पर तीन विकेट लिए जबकि कुलदीप ने 10 ओवर में 39 रन पर चार विकेट और चहल ने 10 ओवर में 43 रन पर दो विकेट लिए। पार्ट टाइम ऑफ स्पिनर केदार जाधव ने तीन ओवर में 17 रन पर एक विकेट लिया।

शमी ने पहले चार ओवर के अंदर ही मार्टिन गुप्तिल और कोलिन मुनरो को बोल्ड कर दिया। गुप्तिल पांच और मुनरो आठ रन ही बना सके। चहल ने टेलर और लाथम को अपनी ही गेंद पर कैच किया। केदार ने निकोल्स को निपटाया। कुलदीप ने विलियम्सन का कीमती विकेट लेने के अलावा डग ब्रेसवेल, लोकी फर्ग्युसन और ट्रेंट बोल्ट के विकेट लिए। शमी ने सेंटनर को आउट किया। कीवी पारी 38 ओवर में सिमट गयी।

-साभार, ईएनसी टाईम्स

[/vc_row]

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.