Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पश्चिम बंगाल के हुगली जिले में खेल के मैदान पर प्रैक्टिस करने के दौरान एक 21 साल के भारतीय ऑलराउंडर खिलाड़ी की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि युवा खिलाड़ी देवब्रत पाल पर जिस समय बिजली गिरी उस समय वह साथी खिलाड़ियों के साथ प्रैक्टिस करने उतरे थे। आनन-फानन में देवब्रत को बेहोशी की हालत में अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

देवब्रत की मौत की खबर सुनकर उनके परिजन सदमे में हैं। उनकी मौत से क्रिकेट एकेडमी के साथी खिलाड़ी और कर्मचारी भी दुखी है। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस घटना पर दुख जताया।

सीएम ममता बनर्जी ने नेताजी इंडोर स्टेडियम में मेधावी छात्रों को सम्मानित करने के एक कार्यक्रम के दौरान बिजली गिरने से युवा क्रिकेटर की मौत पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने शोक जताते हुए कहा, कि ‘युवा क्रिकेटर की मौत से मुझे बड़ा धक्का लगा है। प्रकृति बहुत खतरनाक है। प्राकृतिक आपदा को अपने वश में करना किसी के बस की बात नहीं है।

क्लब के सचिव ने बताया, ‘देवव्रत वॉर्मअप के लिए मैदान पर उतरा ही था कि तभी आसमान से बिजली गिरी और वह अचनाक बेहोश हो गया। इसके बाद खिलाड़ी को अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।’ क्रिकेटर देवव्रत बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में बेहतर थे इसलिए उनको प्रतिभाशाली ऑलराउंडर क्रिकेटर माना जा रहा था। सभी को उम्मीद थी कि देबव्रत एक दिन भारत की सीनियर क्रिकेट टीम से एक दिन जरूर खेलेंगे।

आपको बता दें कि हुगली जिले के श्रीरामपुर के हरफनमौला खिलाड़ी देवब्रत पॉल पिछले महीने ही दक्षिण कोलकाता स्थित विवेकानंद पार्क के कलकत्ता क्रिकेट अकादमी से जुड़ा था।

हर क्रिकेटर की तरह देवव्रत भी भारतीय के लिए खेलना चाहते थे लेकिन उनका सपना अधूरा रह गया। देवव्रत अपने खेल को लेकर बहुत गंभीर थे और रोज प्रैक्टिस कर रहे थे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.